अब राकेश टिकैत ने संसद भवन पर किए जाने वाले प्रदर्शन का किया पोस्टर जारी

 


किसान नेता राकेश टिकैत मानसून सत्र में संसद तक जाने का मन बना चुके हैं।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता और किसान नेता राकेश टिकैत मानसून सत्र में संसद तक जाने का मन बना चुके हैं। वो इसके लिए खुले मंच से ऐलान भी कर चुके हैं। मंगलवार को उनके ट्विटर हैंडल से संसद भवन पर प्रदर्शन का एक पोस्टर भी जारी किया है।

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता और किसान नेता राकेश टिकैत मानसून सत्र में संसद तक जाकर वहां प्रदर्शन का मन बना चुके हैं। वो इसके लिए खुले मंच से ऐलान भी कर चुके हैं। अब मंगलवार को उनके ट्विटर हैंडल से संसद भवन पर प्रदर्शन का एक पोस्टर भी जारी कर दिया गया। इस पोस्टर को अब तक 600 से अधिक लोग रिट्वीट कर चुके हैं। इस पोस्टर को उन्होंने ये लिखते हुए ट्वीट किया है कि संसद अगर अहंकारी और अड़ियल हो तो देश में जनक्रांति निश्चित होती है।

इस पोस्टर में संसद भवन की फोटो लगाई गई है, साथ ही एक ओर गेंहू की बालियां भी दिखाई गई है। उसके नीचे बैकग्राउंड में किसानों का विरोध प्रदर्शन करते हुए फोटो भी लगाया गया है। इसी पोस्टर में प्रदर्शन की तारीख 22 जुलाई लिखी गई है, सबसे नीचे हैशटैग करते हुए किसानों का संसद भवन पर प्रदर्शन लिखा गया है।


इसी के साथ उन्होंने एक बात और साफ की है कि वो यूपी विधानसभा चुनाव में किसी भी राजनीतिक पार्टी के पक्ष में वोट नहीं मांगेंगे, जनता समझदार है, जिसे चाहे वोट दे सकती है। साथ ही वो ये भी साफ कर चुके हैं कि वो बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) को भी वोट देने से किसी को मना नहीं करेंगे, लोगों से ये अपील जरूर करेंगे कि वो जिसको वोट देने जा रहे है उसके लिए एक बार विचार जरूर कर लें।

5 सितंबर को बनेगी किसानों आंदोलन की आगे की रणनीति

राकेश टिकैत ने कहा कि शिक्षक दिवस के दिन यानी 5 सितंबर को एक बड़ी किसान पंचायत का आयोजन किया जाएगा, जिसमें किसान आंदोलन के लिए आगे की रणनीति बनाई जाएगी। टिकैत के एक बयान का हवाला देते हुए कहा गया था कि किसान संगठनों ने यूपी और पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए कमर कस ली है। टिकैत ने कहा था कि किसानों नेताओं के सामने चुनाव लड़ने का विकल्प खुला है।