यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर राकेश टिकैत का बड़ा बयान, जानिये- क्या लड़ेंगे चुनाव



Rakesh Tikait Latest News: यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर राकेश टिकैत का बड़ा बयान, कयासों पर लगाया ब्रेक

 अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में उम्मीदवारी पर राकेश टिकैत ने साफ-साफ कहा कि वह विधानसभा में चुनाव तो नहीं लड़ेंगे लेकिन वोट की चोट देंगे। बावजूद इसके राकेश टिकैत के इस बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं।

नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को पूरी तरह से वापस लेने की मांग को लेकर यूपी बॉर्डर पर बैठे प्रदर्शनकारियों की अगुवाई कर रहे किसान नेता राकेश टिकैट ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर बड़ा और अहम बयान दिया है। एक टेलीविजन चैनल से बातचीत में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने को लेकर कहा है- 'हम चुनाव नहीं लड़ेंगे, लेकिन वोट की चोट देंगे।' बता दें कि राकेश टिकैत ने उत्तर प्रदेश में पहली बार निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़े थे और दूसरी बार राष्ट्रीय लोकदल से चुनाव लड़े थे, लेकिन दोनों बार उनकी जमानत जब्त हो गई। अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में उम्मीदवारी पर राकेश टिकैत ने साफ-साफ कहा कि वह विधानसभा में चुनाव तो नहीं लड़ेंगे, लेकिन वोट की चोट देंगे। इसके कई मायने लगाए जा रहे हैं।

जनता जिसे चाहे उसे वोट दे

किसान नेता राकेश टिकैत कई बार कह चुके हैं कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में किसी भी राजनीतिक पार्टी के पक्ष में वोट नहीं मांगेंगे, जनता समझदार है, जिसे चाहे वोट दे। वहीं, कई मौके पर यह भी कह चुके हैं कि वह भारतीय जनता पार्टी को भी वोट देने से मना नहीं करेंगे, लेकिन सच जनता को-किसानों को बताएंगे।

5 सितंबर को बनेगी किसानों आंदोलन की आगे की रणनीति

राकेश टिकैत ने कहा कि शिक्षक दिवस के दिन यानी 5 सितंबर को एक बड़ी किसान पंचायत का आयोजन किया जाएगा, जिसमें किसान आंदोलन के लिए आगे की रणनीति बनाई जाएगी। इसके साथ राकेश टिकैत 

गौरतलब है कि पिछले काफी समय से मीडिया रिपोर्ट्स आ रही थीं कि राकेश टिकैत आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मैदान में उतर सकते हैं। पिछले दिनों मीडिया रिपोर्ट्स में राकेश टिकैत के एक बयान का हवाला देते हुए कहा गया था कि किसान संगठनों ने उत्तर प्रदेश और पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए कमर कस ली। राकेश टिकैत के जिस बयान का हवाला दिया गया था उसमें राकेश टिकैत ने कहा था कि किसानों नेताओं के सामने चुनाव लड़ने का विकल्प खुला है। वहीं, अब राकेश टिकैत ने चुनाव लड़ने की खबरों को खारिज कर दिया है।