उत्‍तरी पाकिस्‍तान में चीनी इंजीनियर्स को ले जा रही बस में धमाका, आठ लोगों की मौत


चीनी नागरिकों पर कई बार हुआ है पाकिस्‍तान में हमला

पाकिस्‍तान में चीन के नागरिकों को ले जा रही बस में हुए धमाके में 8 लोगों की मौत हो गई है। इसमें चीन के चार इंजीनियर्स शामिल हैं। मरने वालों में सुरक्षाकर्मी भी शामिल हैं जो उस वक्‍त बस में मौजद थे।

पेशावर (रायटर)। उत्‍तरी पाकिस्‍तान में चीन के इंजीनियर्स को लेकर जा रही एक बस में हुए धमाके में आठ लोगों की मौत हो गई है। इसमें चार चीनी नागरिक है। बस में ये धमाका चीनी नागरिकों को निशाना बनाने के लिए ही किया गया था। रायटर ने विभिन्‍न सूत्रों के हवाले से बताया है कि चीन के इंजीनियर्स को लेकर जा रही बस में जबरदस्‍त धमाका सुनाई दिया था। ये धमाका ऊपरी कोहिस्‍तान में हुआ था। ये घटना बुधवार सुबह की बताई गई है।

हजारा क्षेत्र के वरिष्‍ठ प्रशासनिक अधिकारी का कहना है कि इसमें आठ लोगों की मौत हुई है। उन्‍होंने बताया कि ये बस करीब 30 चीन के इंजीनियर्स को लेकर ऊपरी कोहिस्‍तान के दायू बांध की साइट पर जा रही थी। इस हादसे में चीन के इंजीनियर के अलावा दो संसदीय सुरक्षाकर्मियों की भी मौत हुई है।

आपको बता दें कि दासू हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्रोजेक्‍ट चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर का ही एक हिस्‍सा है। बीजिंग द्वारा बनाए जा रहे बेल्‍टा रोड इनिशिएटिव पर चीन करीब 65 अरब डॉलर का खर्च कर रहा है। ये प्रोजेक्‍ट चीन को सीधे ग्‍वादर पोर्ट से जोड़ता है, जो पाकिस्‍तान के दक्षिण में स्थित है। दासू हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्रोजेक्‍ट में काफी संख्‍या में पाकिस्‍तान के मजदूर काम करते हैं, वहीं काफी संख्‍या में चीन के इंजीनियर्स भी यहां पर काफी समय से हैं।

आपको बता दें कि पाकिस्‍तान में चीन द्वारा बनाए जा रहे विभिन्‍न प्रोजेक्‍ट के सिलसिले में काफी संख्‍या में चीनी नागरिक पाकिस्‍तान में रह रहे हैं। हालांकि, कुछ जगहों पर चीन के शुरू किए विभिन्‍न प्रोजेक्‍ट्स को लेकर लोगों में रोष है। गौरतलब है कि चीनी नागर‍िकों को निशाना बनाकर पहले भी कई बार हमला किया गया है। अगस्‍त 2018 में भी क्‍वेटा में चीनी नागरिकों पर इसी तरह का हमला किया गया था। इसमें छह लोग मारे गए थे, जिनमें से 3 चीन के इंजीनियर थे। इस हमले की जिम्‍मेदारी बलूचिस्‍तान लिबरेशन आर्मी ने ली थी।