गढ़मुक्तेश्वर में दो परिवारों को बंधक बनाकर बदमाशों ने डाली लाखों की डकैती

 


हथियारों से लैस पांच बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम।

थाना क्षेत्र के गांव छोटा बिलाहरा में शनिवार देर रात हथियारों से लेस पांच बदमाशों ने रूमाल सिंह के घर में धावा बोला। घर में सो रही पीड़ित की पत्नी विमलेश देवी को बंधक बनाकर कुंडल लूट लिए। पीड़िता ने शोर मचाया तो उनके पति की आंख खुल गई।

गढ़मुक्तेश्वर । सिंभावली थाना क्षेत्र के गांव जमालपुर और छोटा बिलाहरा में हथियारों से लैस पांच बदमाशों ने दो परिवार के लोगों को बंधक बनाकर ने लाखों की डकैती डाली। बदमाश महिलाओं से सोने-चांदी के आभूषण व घर में रखी हजारों नगदी समेटकर ले गए। वारदात के वक्त विरोध करने पर बुजुर्ग व्यक्ति, महिला व बच्चों के साथ मारपीट भी की गई। वहीं, सड़क पर गश्त का दावा ठोंकने वाली पुलिस को बदमाशों की भनक तक नहीं लगी। वारदात सूचना पर पुलिस में अफरा-तफरी मच गई। मौके पर पहुची पुलिस ने घटना स्थल से साक्ष्य एकत्र किए हैं।

थाना क्षेत्र के गांव छोटा बिलाहरा में शनिवार देर रात हथियारों से लेस पांच बदमाशों ने रूमाल सिंह के घर में धावा बोला। घर में सो रही पीड़ित की पत्नी विमलेश देवी को बंधक बनाकर कुंडल लूट लिए। पीड़िता ने शोर मचाया तो उनके पति की आंख खुल गई। विरोध करने पर बदमाशों ने रूमाल सिंह को बेरहमी से पीटकर घायल कर दिया।वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश पड़ोसी गांव जमालपुर में चौधरी ओमपाल सिंह के घर पहुंचे। यहां उन्होंने ओमपाल सिंह की मां रघुवीरी देवी और पुत्र वधु नीलम को बंधक बनाकर सोने-चांदी के आभूषण लूट लिए। विरोध किए जाने पर महिलाओं के साथ मारपीट कर दी। हमले में नीलम की पुत्री भारती घायल हो गई।

आतंकित कर बदमाशों ने घर से दस हजार की नगदी भी समेट ली और फरार हो गए। किसी तरह बंधन मुक्त होकर पीड़ित परिवार के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। डकैती की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुची। पुलिस ने बदमाशों को तलाश में कांबिग की। लेकिन, कामयाबी नहीं मिल सकी। थाना प्रभारी निरीक्षक राजपाल सिंह तोमर ने बताया कि घटना की जांच की जा रही है। घायलों को अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है। जल्द ही वारदात का पर्दाफाश कर दिया जाएगा।