देखिए नन्हीं बच्ची के मुंह से अपनी प्रसिद्ध कविता सुनकर क्या बोले कवि कुमार विश्वास, जीत लिया दिल

 


कुमार विश्वास की प्रसिद्ध कविता को बच्चियां भी गुनगुनाती हैं।

कुमार विश्वास जब भी देश दुनिया के किसी कोने में कविता पाठ के लिए जाते हैं तो प्रशंसक उनसे एक बार ये कविता सुनाने की अपील जरूर करते हैं। प्रशंसकों की अपील पर कुमार मंच से इस कविता का अपने अंदाज में पाठ भी करते हैं और तालियां बटोरते हैं।

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। कवि कुमार विश्वास की कुछ कविताएं हर छोटे बड़े के दिलोदिमाग पर छाई हुई हैं। कुछ कविताओं को तो लोग बार-बार सुनना और गुनगुनाना चाहते हैं। उनकी ऐसी ही एक कविता है कोई दीवाना कहता है कोई पागल समझता है। धरती की बेचैनी को तो सिर्फ बादल समझता है। कुमार विश्वास जब भी देश दुनिया के किसी कोने में कविता पाठ के लिए जाते हैं तो उनके प्रशंसक उनसे एक बार ये कविता सुनाने की अपील जरूर करते हैं। अपने प्रशंसकों की अपील पर कुमार मंच से इस कविता का अपने अंदाज में पाठ भी करते हैं और तालियां बटोरते हैं।

अब एक बार कुमार विश्वास की ये सिगनेचर कविता एक बार फिर से चर्चा में आई है। इस बार एक छोटी बच्ची उनकी इस कविता को गुनगुना रही है और उसके साथ बैठी दूसरी बच्ची म्यूजिक सिस्टम पर संगीत दे रही है। बच्ची संगीत की धुन देने में मगन दिखाई देती है और दूसरी लड़की कवि की कविता का पाठ उसी अंदाज में करने की कोशिश करती दिखाई देती है। दोनों बच्चियों के इस वीडियो को शिखा मिश्रा ने ट्वीट किया है।

शिखा मिश्रा के इस ट्वीट को कुमार विश्वास ने अपने ट्विटर हैंडल से रिट्वीट किया, साथ ही उन्होंने लिखा है कि क्यूटम् क्यूटैस्ट। कुमार के इस रिट्वीट के बाद इसे सैकड़ों लोग अब तक रिट्वीट कर चुके हैं। 55 सेकंड के इस वीडियो को अब तक हजारों बार देखा जा चुका है। ये पहला मौका होगा जब कुमार की इस प्रसिद्ध कविता को एक बच्ची गुनगुना रही है और उसका वीडियो वायरल हुआ है।

इससे पहले भी विश्वास ने एक वीडियो को रिट्वीट किया था जिसमें एक छोटी बच्ची मंच के सामने उनकी कविता सुन रही होती है और वो उनकी कविता को खुद भी गुनगुनाती दिखती है। कविता सुनते हुए उसके चेहरे के हावभाव को वीडियो में काफी लोगों ने पसंद किया। उसके बाद एक दूसरी तस्वीर भी सामने आई जिसमें कुमार विश्वास खुद उस छोटी प्रशंसक के पास पहुंचते हैं और उसके चेहरे की खुशी को दोगुना करते हैं।