गाजियाबाद के क्रॉसिंग रिपब्लिक से नोएडा एक्सटेंशन की राह होगी आसान, रोजाना जाम से मिलेगा छुटकारा

 


गाजियाबाद के क्रॉसिंग रिपब्लिक से नोएडा एक्सटेंशन की राह होगी आसान, रोजाना जाम से मिलेगा छुटकारा

क्रॉसिंग रिपब्लिक से नोएडा एक्सटेंशन को जोड़ने वाली सड़क बनाने में जमीन न मिल पाने के कारण समस्या थी लेकिन अब जमीन मिलने का रास्ता साफ हो गया है। किसान जमीन देने का राजी हो गए हैं। ऐसे में समस्या का जल्द समाधान होने के कयास लगाए जा रहे हैं।

गाजियाबाद । सबकुछ ठीक रहा तो आने वाले समय में गाजियाबाद के क्रॉसिंग रिपब्लिक टाउनशिप से ग्रेटर नोएडा की राह में मुसीबत बने रिछपालगढ़ी के जाम से झुटकारा मिल जाएगा। दरअसल, गाजियाबाद की बड़ी टाउनशिप में शुमार क्रॉसिंग रिपब्लिक सोसायटी में 50 हजार से ज्यादा लोग रहते हैं। इन सभी लोगों को नोएडा एक्सटेंशन की तरफ जाते वक्त हर दिन घंटों जाम से जूझना पड़ता है, लेकिन अब इनकी परेशानी जल्द खत्म हो सकती है। क्रॉसिंग रिपब्लिक से नोएडा एक्सटेंशन को जोड़ने वाली सड़क बनाने में जमीन न मिल पाने के कारण समस्या थी, लेकिन अब जमीन मिलने का रास्ता साफ हो गया है। किसान जमीन देने का राजी हो गए हैं। ऐसे में लोगों की समस्या का जल्द समाधान होने के कयास लगाए जा रहे हैं।

 किसान बोले, नियमानुसार मिले मुआवजा, दे देंगे जमीन

जिन किसानों की जमीन न मिल पाने के कारण सड़क बनाने में बाधा आ रही थी। उन सभी किसानों ने जीडीए अधिकारी काे एफिडेविट सौंपकर जमीन देने के लिए रजामंदी दे दी है। किसानों ने साफ कहा कि नए अधिग्रहण कानून के तहत उन्हें जमीन का मुआवजा दिया जाए। वह जमीन देने के लिए तैयार हैं।

 अब गेंद बिल्डर के पाले में

अभी तक बिल्डर जमीन न मिल पाने व किसानों का आपसी विवाद बताकर सड़क न बना पाने की बात कहता था लेकिन किसानों के एफिडेविट देने के बाद अब गेंद बिल्डर के पाले में आ गई है। जीडीए ओएसडी सुशील चौबे का कहना है बिल्डर को निर्देश देकर समस्या का समाधान कराया जाएगा।