मतांतरण और निकाह के खेल में काजी के साथ शामिल हैं कई लोग


शाहदरा बार एसोसिएशन ने काजी का सामान दिल्ली बार काउंसिल के हवाले कर दिया है।

पटपड़गंज निवासी एक व्यक्ति की बेटी का कड़कड़डूमा कोर्ट परिसर में वकील के चैंबर में मतांतरण और निकाह कराया गया था। अल निकाह ट्रस्ट के काजी मुहम्मद अकबर दहलवी ने निकाह पढ़वाया था। शाहदरा बार एसोसिएशन ने उस काजी का सामान जब्त किया था।

नई दिल्ली। कड़कड़डूमा कोर्ट परिसर में वकील के चैंबर में मतांतरण और निकाह के मामले में शाहदरा बार एसोसिएशन ने काजी का सामान दिल्ली बार काउंसिल के हवाले कर दिया है। काजी की एक अलमारी से कई मतांतरण प्रमाण पत्र और निकाहनामा मिले हैं, जिन पर कई लोगों के विजिटिंग कार्ड टैग हैं। माना जा रहा है कि यह कार्ड उनके हैं, जो इस काम के लिए लोगों को काजी तक लाते थे।

शहादरा बार एसोसिएशन ने जब्त किया काजी का सामान

पटपड़गंज निवासी एक व्यक्ति की बेटी का कड़कड़डूमा कोर्ट परिसर में वकील के चैंबर में मतांतरण और निकाह कराया गया था। अल निकाह ट्रस्ट के काजी मुहम्मद अकबर दहलवी ने निकाह पढ़वाया था। शाहदरा बार एसोसिएशन ने उस काजी का सामान जब्त किया था। इस बार एसोसिएशन के सचिव मनोज चौहान ने बताया कि उन्होंने काजी का सामान प्लास्टिक के कट्टे में भर कर बार काउंसिल को भेज दिया है। काजी के सामान का वीडियो भी बनाया गया है। उसमें काफी संख्या में मतांतरण और निकाह के दस्तावेज हैं। जिन पर कई लोगों के कार्ड लगे हुए हैं।

जांच के बाद विशेष अनुशासन समिति को सौपी जाएगी रिपोर्ट

उधर दिल्ली बार काउंसिल के सचिव पीयूष गुप्ता का कहना है कि काजी का सामान उनके पास आ चुका है। वह उसे इस मामले की जांच कर रही विशेष अनुशासन समिति को देंगे। वही इसकी जांच करेगी।