केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार पर बिहार के CM नीतीश कुमार का बयान, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो चाहेंगे, वो होगा

 


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार। जागरण आर्काइव।

केंद्रीय कैबिनेट में जदयू की भूमिका पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री जो चाहेंगे वो होगा। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर मुझे किसी फार्मूले की जानकारी नहीं है। नीतीश ने कहा कि इसके लिए जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष अधिकृत हैं।

 पटना। केंद्रीय कैबिनेट में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) जदयू की भूमिका पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो चाहेंगे, वो होगा। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर मुझे किसी फार्मूले की जानकारी नहीं है। नीतीश ने कहा कि जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह को इसके लिए अधिकार दिया गया है। सीएम ने कहा कि कई महीने पहले आरसीपी सिंह को अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंप दी है, ऐसे में पार्टी की ओर से निर्णय उन्हीं के द्वारा लिया जाएगा। मंत्रिमंडल में इसबार जदयू शामिल होगा कि नहीं? इसके जवाब में नीतीश कुमार ने कहा कि नरेंद्र मोदी कैबिनेट में जदयू की भूमिका न होने की तो कोई बात नहीं है। केंद्रीय कैबिनेट में जदयू होगा या नहीं यह पीएम और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह के ऊपर निर्भर करता है। 

आरसीपी सिंह पहले ही कर चुके हैं दावेदारी

बता दें कि नरेंद्र मोदी कैबिनेट का दो दिनों के अंदर विस्तार हो सकता है। केंद्रीय कैबिनेट के विस्तार की सुगबुगाहट पर जदयू ने पहले ही अपनी दावेदारी पेश कर दी है। हाल ही में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा था कि केंद्रीय कैबिनेट का जब भी विस्तार हो, उसमें बिहार से जदयू को भी जगह दी जाए। आरसीपी ने कहा था कि पार्टी तैयार है।

एनडीए में शामिल हैं जदयू के 16 सांसद

बता दें कि नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल में पहले भी जदयू के शामिल होने की चर्चा रही है, मगर ऐसा नहीं हो पाया। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की सरकार में शामिल जदयू के 16 सांसद हैं। ऐसे में पार्टी ने केंद्र में अपनी दावेदारी चाहती है। इसबार कैबिनेट के विस्तार में बिहार से कुछ चेहरों को जगह मिलने की संभावना है। नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), जनता दल यूनाइटेड (जदयू) और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) (पारस गुट) के शामिल होने की चर्चा है।