पुलवामा मुठभेड़ में LeT कमांडर अबू हुरैरा सहित तीन आतंकी ढेर



बुधवार सुबह भी दोनों ओर से फायरिंग जारी है।

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में मंगलवार को आधी रात से शुरू हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता हाथ लगी है। सुरक्षाबलों और पुलिस ने संयुक्त रूप से आतंकियों के खिलाफ चलाए इस अभियान में लश्कर-ए-तैयबा के टॉप कमांडर एजाज उर्फ अबू हुरैरा सहित तीन आतंकियों को ढेर कर दिया।

जम्मू। दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में मंगलवार को आधी रात से शुरू हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता हाथ लगी है। सुरक्षाबलों और पुलिस ने संयुक्त रूप से आतंकियों के खिलाफ चलाए इस अभियान में लश्कर-ए-तैयबा के टॉप कमांडर एजाज उर्फ अबू हुरैरा सहित तीन आतंकियों को ढेर कर दिया है। कश्मीर के आइजी विजय कुमार ने बताया कि मारे गए एक आतंकी की पहचान पाकिस्तान के एजाज उर्फ अबू हुरैरा के रूप में हुई है। उसका खात्मा दो अन्य स्थानीय आतंकियों के साथ कर दिया गया है। उन्होंने सुरक्षाबलों और पुलिस को मुबारकबाद दी है।

इससे पहले दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में मंगलवार को आधी रात के बाद उस समय गोलियां की आवाज गूंज उठी, जब एक जगह छिपे तीन आतंकियों ने घेराबंदी तोड़कर भागने के लिए सुरक्षाबलों पर गोलियां बरसा दीं। सुरक्षाबलों ने भी खुद को बचाते हुए जवाबी कार्रवाई की। इसके साथ ही मुठभेड़ शुरू हो गई। बुधवार सुबह जारी रही और कुछ समय के उपरांत तीनों आतंकियों का खात्मा कर दिया गया।पुलवामा कस्बे में मंगलवार की देर रात आतंकियों का एक दल अपने किसी संपर्क सूत्र सेे मिलने आया था। इसका पता चलते ही पुलिस ने सेना और सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर आतंकियों के ठिकाने की घेराबंदी शुरू कर दी। आधी रात के बाद करीब एक बजे आतंकियों ने जवानों को अपने ठिकाने की तरफ बढ़ते देख फायरिंग कर दी। आतंकियों ने घेराबंदी तोड़ भागने का प्रयास किया, लेकिन जवानों ने त्वरित कार्रवाई कर उन्हें मुठभेड़ में उलझा लिया।

काजीगुंड में रेलवे ट्रैक के पास आइईडी हमला नाकाम

दक्षिण कश्मीर में आतंकियों ने रेलवे ट्रैक को फिर से उड़ाने की साजिश रची है। सुरक्षाबलों ने मंगलवार को दामजन, काजीगुंड में एक आइईडी को समय रहते बरामद कर एक बड़ी आतंकी वारदात को नाकाम बना दिया। इसे रेलवे ट्रैक के पास चिनार के पेड़ के नीचे छिपाया गया था।

मंगलवार की शाम को पुलिस व केंद्रीय अर्धसैनिकबल के जवानों का एक संयुक्त कार्यदल ने दामजन, काजीगुंड में रेलवे ट्रैक के पास नियमित गश्त पर था। जवानों ने ट्रैक के पास एक जगह आइईडी को लगा हुआ देखा। उन्होंने उसी समय बम निरोधक दस्ते को सूचित किया। बम निरोधक दस्ते ने मौके पर पहुंचकर आइईडी को अपने कब्जे मे लिया और उसे सुरक्षित तरीके से नकारा बना दिया।