लूटपाट कर भाग रहे दो बदमाशों को दिल्ली पुलिस ने दबोचा, 10 मामले सुलझे

 

आरोपित की पहचान साहिल उर्फ पल्लू व राहुल के रूप में हुई।
सूरज ने शोर मचाना शुरू कर दिया। उसी दौरान वहां गश्त करते हुए बेगमपुर थाने के एएसआइ नीरज राणा यशपाल कांस्टेबल विकास सनी रोहताश राकेश व संदीप भी पहुंच गए। उन्होंने भाग रहे बदमाशों का पीछा शुरू कर दिया और कुछ ही दूरी पर दोनों को दबोच लिया।

नई दिल्ली,  संवाददाता। बेगमपुर इलाके में बाइक सवार को लूटकर भाग रहे दो बदमाशों को मौके से पुलिसकर्मियों ने दबोच लिया। उनके खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपितों के कब्जे से लूटी गई रकम, चार मोबाइल फोन व चोरी की एक मोटरसाइकिल बरामद की गई है।

रोहिणी जिले के डीसीपी ने बताया कि स्वरुप नगर निवासी सूरज सिंह मोटरसाइकिल साइकिल से अपने घर की ओर जा रहे थे। जब वह दीप विहार चौक के पास पहुंचे तो उनके मोबाइल पर किसी ने फोन किया। वह मोटरसाइकिल रोकर मोबाइल पर बात करने लगे। तभी अचानक बाइक पर दो युवक पीछे से आए और उनमें से एक ने उन्हें पकड़ लिया और धक्का दे दिया। जिससे वह नीचे गिर गए। इसके बाद दोनों युवक उनकी जेब से सात सौ रुपये और मोबाइल फोन छीन लिया और भागने लगे।

ऐसे में सूरज ने शोर मचाना शुरू कर दिया। उसी दौरान वहां गश्त करते हुए बेगमपुर थाने के एएसआइ नीरज राणा, यशपाल, कांस्टेबल विकास, सनी, रोहताश, राकेश व संदीप भी पहुंच गए। उन्होंने भाग रहे बदमाशों का पीछा शुरू कर दिया और कुछ ही दूरी पर दोनों को दबोच लिया। उनकी पहचान साहिल उर्फ पल्लू व राहुल के रूप में हुई। उनके पास से मिली बाइक चोरी की निकली। पूछताछ के दौरान उन्होंने अन्य मामलों में अपनी संलिप्तता स्वीकारी। दोनों की गिरफ्तारी से दस वारदात की गुत्थी सुलझा ली गई है।

आठ साल की बच्ची से छेड़खानी,मामला दर्ज

वहीं, बाहरी दिल्ली के अमन विहार इलाके में आठ साल की बच्ची से अश्लील हरकत करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने बच्ची की मां की शिकायत पर मामला दर्ज कर आरोपित पड़ोसी को गिरफ्तार कर लिया है। वह नरेला में एक फैक्ट्री में काम करता है। जानकारी के अनुसार पीड़िता परिवार सहित किराड़ी सुलेमान नगर इलाके में रहती है। वह छोटे भाई के साथ घर के पास खेल रही थी। तभी पड़ोस में रहने वाले प्रकाश ने बच्ची के भाई को घर पानी लाने के लिए भेज दिया। फिर बच्ची को अपने घर ले जाकर अश्लील हरकत की। इसी बीच बच्ची की मां आरोपित के घर पहुंचीं। बच्ची ने पूरी बात बता दी। इसके बाद पीड़िता की मां ने थाने में शिकायत दी।