15 हजार सीटों पर दिल्ली की छात्राओं को मिलेगा दाखिला, 26 कॉलेजों में एडमिशन का मौका

 


डीयू में 26 केंद्रों पर चलती हैं एनसीवेब की कक्षाएं

एनसीवेबस में स्नातक की 15 हजार सीटें हैं। जबकि स्नातकोत्तर में एक हजार सीट हैं। स्नातकोत्तर में सात पाठ्यक्रमों में दाखिले दिए जाते हैं वहीं स्नातक में दो पाठ्यक्रमों बीए और बीकाम में दाखिले होते हैं। स्नातक में दाखिला का आधार मेरिट है।

नई दिल्ली । कोरोना काल में सीबीएसई समेत राज्यों के बोर्ड ने 12वीं की परीक्षाएं रद कर दी थी। सीबीएसई ने परीक्षा परिणाम जारी करने के लिए विस्तृत गाइडलाइंस जारी की। 12वीं के परीक्षा परिणामों में 95 फीसद से अधिक नंबर पाने वालों की तादात गत वर्ष के मुकाबले बढ़ी है। ऐसे में स्वाभाविक है कि डीयू का कटआफ ऊंचा रहेगा। डीयू की मानें तो दिल्ली की छात्राओं के लिए नान कालेजिएट वुमन एजुकेशन बोर्ड (एनसीवेब) भी एक बेहतर विकल्प हो सकता है।

इसमें सिर्फ दिल्ली की छात्राओं को ही दाखिला दिया जाता है। स्नातकोत्तर में आधी सीटों पर दाखिला प्रवेश परीक्षा के आधार पर तथा आधी सीटों पर मेरिट के आधार पर होता है, जबकि स्नातक में मेरिट के आधार पर दाखिला होता है।

15 हजार सीटें

एनसीवेबस में स्नातक की 15 हजार सीटें हैं। जबकि, स्नातकोत्तर में एक हजार सीट हैं। स्नातकोत्तर में सात पाठ्यक्रमों में दाखिले दिए जाते हैं वहीं स्नातक में दो पाठ्यक्रमों बीए और बीकाम में दाखिले होते हैं। स्नातक में दाखिला का आधार मेरिट है।

 स्नातकोत्तर स्तर पर हिंदी, अग्रेजी, गणित, राजनीति विज्ञान, इतिहास, संस्कृत और पंजाबी पढ़ाया जाता है। एनसीवेब पदाधिकारियों ने बताया कि कुल 26 केंद्र हैं। इनमें से नौ केंद्रों पर शनिवार और बाकि 17 केंद्रों पर रविवार को कक्षाएं चलती हैं। स्नातकोत्तर की कक्षाएं हफ्ते में दो दिन चलती हैं। एनसीवेब में प्लेसमेंट के लिए कंपनियां आती हैं। हालांकि गत वर्ष कोरोना के चलते प्लेसमेंट में दिक्कत आई थी।

26 कालेजों में मिलेगा दाखिला

मिरांडा हाउस, महाराजा अग्रसेन कालेज, विवेकानंद कालेज, अंबेडकर कालेज, लक्ष्मीबाई कालेज, सत्यवती कालेज, राजधानी कालेज, श्यामा प्रसाद मुखर्जी कालेज, कालिंदी कालेज, भारती कालेज, मैत्रेयी कालेज, गार्गी कालेज, अरबिंदो कालेज, मोतीलाल नेहरू कालेज, आर्यभट्ट कालेज, रामानुजन कालेज, पीजीडीएवी कालेज, जानकी देवी मेमोरियल कालेज, भगिनी निवेदिता कालेज, अदिति कालेज, हंसराज कालेज, जीजस एंड मेरी कालेज, दीन दयाल उपाध्याय कालेज, केशव महाविद्यालय कालेज, गुरु गोविंद सिंह कालेज आफ कामर्स और कालेज आफ वोकेशनल स्टडीज।