सिक्किम में स्वतंत्रता दिवस का जश्न, 18300 फीट ऊंचे डोंकयाला दर्रे पर जवानों ने फहराया तिरंगा

 

 

कई सुरक्षा बल इस दिन को उत्साह और गर्व के साथ मना रहे हैं (फोटो : एएनआइ)
भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के जवानों ने लद्दाख में पैंगोंग त्सो के तट पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जो 14000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है और जवानों ने इस दौरान राष्ट्रगान भी गाया। कई सुरक्षा बल इस दिन को उत्साह और गर्व के साथ मना रहे हैं।

नई दिल्ली, एएनआइ। स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सिक्किम के डोंकयाला दर्रे पर तिरंगा फहराया गया, जो कि 18300 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यहां सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने रविवार को 75वें स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाया। रक्षा मंत्रालय के प्रधान प्रवक्ता ए भारत भूषण बाबू ने कहा, 'आज भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने के लिए पूर्वी क्षेत्र में सबसे ऊंचे दर्रे- 18300 फीट पर डोंकयाला दर्रे में तिरंगा फहराया गया।'

वहीं, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के जवानों ने लद्दाख में पैंगोंग त्सो के तट पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया, जो 14,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है और जवानों ने इस दौरान राष्ट्रगान भी गाया। ITBP जवानों ने 16700 फीट की ऊंचाई पर सिक्किम में गुरुडोंगमार झील के तट पर भी स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाया।