4 महीने बाद नोएडा-ग्रेटर नोएडा में खुले 9वीं से 12वीं तक स्कूल

 


School Reopen : 4 महीने बाद नोएडा-ग्रेटर नोएडा में खुले 9वीं से 12वीं तक स्कूल, जानिये- पूरी गाइडलाइन

 सोमवार को नोएडा और ग्रेटर नोएडा में छात्र और छात्राओं की उपस्थिति से स्कूलों में छाया सन्नाटा टूट गया। हालांकि पहले दिन स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति कम रही। कुछ स्कूलों में कक्षाओं का संचालन भी शुरू नहीं हुआ।

नोएडा/गाजियाबाद, डिजिटल डेस्क। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण पिछले लगभग 4 माह से बंद चल रहे स्कूलों में सोमवार से कक्षाओं का संचालन शुरू हो गया। फिलहाल 9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं के छात्राएं आएंगे, जिसकी सोमवार से शुरुआत हुई है। इस बीच सोमवार को नोएडा और ग्रेटर नोएडा में छात्र और छात्राओं की उपस्थिति से स्कूलों में छाया सन्नाटा टूट गया। हालांकि, पहले दिन स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति कम रही। कुछ स्कूलों में कक्षाओं का संचालन भी शुरू नहीं हुआ। स्कूलों में कोविड-19 नियमों का पालन करते हुए कक्षाओं का संचालन किया गया। ज्ञात हो कि कोरोना संक्रमण के कारण इस वर्ष मार्च से स्कूल बंद हो गए थे। संक्रमण की स्थिति कम होने के बाद प्रदेश सरकार ने 16 अगस्त से कक्षा नौ से 12 तक के स्कूलों में कक्षाओं के संचालन की अनुमति दी थी।

पहले दिन बेहद कम रही छात्र-छात्राओं की उपस्थिति

गौरतलब है कि स्कूल खोलने से पहले स्कूल प्रबंधन ने छात्रों के अभिभावकों से राय मांगी थी कि क्या वह अपने अपने बच्चों को स्कूल भेजना चाहेंगे। लगभग साठ से सत्तर फीसद तक अभिभावकों ने सहमति दी थी, लेकिन स्कूल खुलने के पहले दिन सहमति के आधार कक्षाओं में छात्रों की उपस्थिति नहीं रही।

सावधानी और सतर्कता बरतते हुए छात्र पहुंचे स्कूल

स्कूल आने वाले सभी छात्र मास्क लगाकर पहुंचे। स्कूलों ने अपने-अपने गेट पर सैनिटाइजर रखा था। साथ ही एक-एक छात्र की ऑक्सीमीटर से जांच भी की गई। जिसके बाद छात्रों को प्रवेश दिया गया। कक्षाओं में भी छात्रों को दूर-दूर बैठाया गया।

छात्र-छात्राओं के चेहरे खिले

वहीं, चार  महीने बाद ही स्कूल पहुंचे छात्र-छात्राओँ के चेहरों पर खुशी देखने को मिली। अपने-अपने दोस्तों से मिलकर भी छात्र खुश हुए। छात्रों के अभिभावकों की सहमति न मिलने के कारण कुछ स्कूलों में कक्षाओं का संचालन शुरू नहीं हो सका। ऐसे स्कूल एक-दो दिन में कक्षा संचालन की योजना बना रहे हैं।