डीएसजीपीसी चुनाव में बड़ा उलटफेर, अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा चुनाव हारे

 

हरविंदर सिंह सरना और मनजिंदर सिंह सिरसा।
 दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीपीसी) के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा चुनाव हार गए हैं। उन्हें शिअद दिल्ली के हरविंदर सिंह सरना ने 500 से ज्यादा वोट से हराया। चुनाव हारने से डीएसजीपीसी अध्यक्ष बनने की सिरसा की उम्मीदों पर तगड़ा झटका लगा है।

नई दिल्ली,  संवाददाता। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीपीसी) के निवर्तमान अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा चुनाव हार गए हैं। उन्हें शिअद दिल्ली के हरविंदर सिंह सरना ने 500 से ज्यादा वोटों से हराया। मनजिंदर सिंह सिरसा पंजाबी बाग वार्ड 9 से चुनाव लड़ रहे थे। चुनाव हारने से दोबारा डीएसजीपीसी अध्यक्ष बनने की सिरसा की उम्मीदों को तगड़ा झटका लगा है। मनजिंदर सिंह सिरसा लगातार अपने प्रतिद्वंद्वी हरविंदर सिंह सरना से पीछे चल रहे थे। वह अंतिम दौर की मतगणना तक बढ़त बनाने में नाकाम रहे थे।

मनजिंदर सिंह सिरसा के चुनाव हारने से दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीपीसी) को नया अध्यक्ष मिलना तय माना जा रहा है। शिरोमणि अकाली दल (बादल) अपने किसी वरिष्ठ नेता को इस पद की जिम्मेदारी सौंप सकती है। अभी तक जारी मतगणना के अनुसार, शिरोमणि अकाली दल (बादल) 46 सीटों में से 26 सीटें जीतकर स्पष्ट बहुमत हासिल कर चुकी है। 

सिरसा पर लगे थे भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप

मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे थे। इनके खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी हो चुकी है। शिअद दिल्ली (सरना) के नेता ने सिरसा के खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायत दर्ज कराई थी। डीएसजीएमसी के चुनाव में भी भ्रष्टाचार का मुद्दा छाया रहा। माना जा रहा है कि भ्रष्टाचार के आरोपों से सिरसा की छवि को नुकसान पहुंचा और उन्हें पराजय का सामना करना पड़ा।

इन उम्मीदवारों को भी मिली जीत

  • स्वरूप नगर वार्ड दो से शिअद दिल्ली के सुखबीर सिंह कालरा 121 वोट से जीते।
  • वार्ड नंबर 42 दिलशाद गार्डन से 978 वोट से जीते बलबीर सिंह।
  • रोहिणी वार्ड एक से शिअद बादल के सरबजीत सिंह विर्क 1119 वोट से जीते।
  • सरिता विहार से शिअद बादल के गुरप्रीत सिंह जस्सा को मिली जीत।