कई राज्‍यों में फिर खुले स्‍कूल, आइये जानें क्‍या है आपके राज्‍य की स्थिति


कई राज्यों में 9 से 12वीं तक के स्कूल खुल गए हैं
कोरोना की दूसरी लहर के बाद बंद हुए स्कूल अब फिर से पढ़ाई के लिए खुलने लगे हैं। कई राज्यों में 9 से 12वीं तक के स्कूल खुल गए हैं तो वहीं कई राज्यों में खुलने वाले हैं। सितंबर से 12 वर्ष से अधिक बच्‍चों के लिए वैक्‍सीन आ जाएगी।

 नई दिल्‍ली, ऑनलाइन डेस्‍क। कोरोना की दूसरी लहर के बाद बंद हुए स्कूल अब फिर से पढ़ाई के लिए खुलने लगें हैं। कई राज्यों में 9 से 12वीं तक के स्कूल खुल गए हैं, तो वहीं कई राज्यों में खुलने वाले हैं। सितंबर से 12 वर्ष से अधिक बच्‍चों के लिए वैक्‍सीन आ जाएगी। उसके बाद बड़े बच्‍चों के लिए स्‍कूल जाना आसान होगा। आइये जानते हैं किन-किन राज्‍यों में स्‍कूल खोले गए हैं-

jagran

यूपी में खुले 9 से 12वीं तक के स्कूल

यूपी में 23 अगस्त 2021 से 6 से 8वीं तक के स्कूल फिर से खुलने वाले थे, लेकिन पूर्व सीएम कल्याण सिंह के निधन के बाद प्रदेश में 23 अगस्त 2021 को सार्वजनिक अवकाश घोषित किया गया है। ऐसे में अब 8वीं तक के स्कूल 24 अगस्त 2021 से खुलेंगे। वहीं प्रदेश में 9 से 12वीं तक के सभी स्कूल 16 अगस्त 2021 से पढ़ाई के लिए पहले ही खोले जा चुके हैं। लखनऊ शहर मोंटेसरी स्कूल के सीनियर सेक्शन की प्रभारी अन्विता वर्मा ने कहा कि हमारा सत्र शुरू हुआ लेकिन लॉकडाउन के कारण स्कूल फिर से बंद कर दिए गए। इसके लिए हम कोविड प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं। प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनिंग की जा रही है। हर फ्लोर पर सैनिटाइजर लगाए गए हैं। छात्रों, शिक्षकों और स्टाफ सदस्यों के लिए भी मास्क अनिवार्य है। शारीरिक दूरी का ठीक से पालन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बैठने की व्यवस्था में भी हम शारीरिक दूरी को बनाए हुए हैं।

कर्नाटक में खोले गए स्‍कूल, तमिलनाडु में 1 सितंबर से खोले जाएंगे स्‍कूल

कर्नाटक में पांच महीने बाद 23 अगस्त को 9 से 12वीं तक के स्कूल फिर से खुल गए हैं। वहीं तमिलनाडु सरकार ने भी 1 सितंबर से छात्रों के लिए स्कूल खोलने का ऐलान कर दिया है। तमिलनाडु सरकार ने घोषणा की है कि स्‍कूल 50 प्रतिशत क्षमता के साथ एक सितंबर से फिर से खुल सकते हैं। इसके अलावा राज्य के सभी कॉलेज 1 सितंबर से रोटेशनल आधार पर टीचिंग टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ के साथ काम कर सकते हैं।

कर्नाटक के छात्रों में इस दौरान खुशी देखी गई। सोमवार को 9 वीं से 12 वीं तक के स्कूल और प्री यूनिवर्सिटी (पीयू) के कॉलेज खोले गए। कर्नाटक के वे जिले जहां पाजिटिविटी रेट दो फीसद से कम है, उन जिलों के स्‍कूल खोले गए। बेंगलुरू के कुछ स्कूलों का दौरा करने के बाद संवाददाताओं से मुख्यमंत्री बसवराज एस बोम्मई ने कहा कि छात्र बहुत खुश हैं। ऐसा लगता है, उन्हें आज कोविड से आजादी मिल गई है। 15 अगस्त को देश के लिए स्वतंत्रता के रूप में मनाया जाता है, लेकिन हमारे छात्रों के लिए नौवीं, दसवीं, 11 वीं और 12 वीं कक्षा के छात्रों के लिए यह उनके लिए एक वास्तविक स्वतंत्रता है। 

jagran

कर्नाटक में स्‍कूलों के फिर खुलने पर हुबली के विमला कुलकर्णी मेमोरियल स्कूल में शिक्षकों ने छात्रों का स्वागत किया। एक छात्र का कहना है कि ऑनलाइन कक्षाएं मानसिक रूप से थका देने वाली हैं और हमारी आंखों को प्रभावित करती हैं। मैं स्कूल लौटने के लिए उत्साहित हूं, जहां मैं अपने दोस्तों के साथ बातचीत कर सकूंगा।

दिल्ली के स्‍कूल कब खुलेंगे

दिल्ली के स्कूलों को कक्षा 10-12 के छात्रों के लिए आंशिक रूप से खोलने की अनुमति दी गई है। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने बोर्ड परीक्षाओं में दाखिले और प्रायोगिक गतिविधियों से संबंधित काम के लिए स्कूल खोलने के संबंध में आदेश जारी किया है। स्कूल परिसर स्थित स्वास्थ्य जांच शिविरों को भी फिर से शुरू करने की अनुमति दी गई है। दिल्ली सरकार ने कोविड प्रोटोकाल पालन करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए। माता-पिता से लिखित सहमति, किताबें और स्टेशनरी साझा नहीं करना, स्कूलों की सफाई और थर्मल स्क्रीनिंग उन एसओपी में से शामिल है।

बिहार मेें  फिर से खुल गए स्‍कूल 

16 अगस्त से बिहार के स्कूल कक्षा 1 से 8 तक के लिए फिर से खुल गए हैं। कक्षाएं 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ और वैकल्पिक दिनों में आयोजित की जाएंगी। बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने सभी छात्रों को शुभकामनाएं दीं। मंत्री ने ट्वीट किया कि कोरोना दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए कक्षा 1 से 8 तक के स्कूल फिर से शुरू हो रहे हैं। सभी शिक्षकों, बच्चों और अभिभावकों को मेरी शुभकामनाएं। मैं बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए ईश्वर से प्रार्थना करता हूं। सभी बच्चे पढ़ें और आगे बढ़ते रहें।

एमपी में भी खुले स्‍कूल

मध्य प्रदेश में 26 जुलाई से 50 प्रतिशत क्षमता के साथ 11वीं और 12वीं की कक्षाएं शुरू हो गई हैं। मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण लगातार कम हो रहा है, जिसके बाद 50 प्रतिशत क्षमता के साथ केवल बड़ी कक्षाओं को शुरू करने का फैसला लिया गया। इसके साथ ही एक अगस्त से कालेजों में भी कक्षाएं शुरू करने की घोषणा की गई है। कक्षा 9वीं एवं 10वीं की कक्षाएं पांच अगस्त से शुरू हो गए हैं। दूसरी तरफ, पहले से चल रही ऑनलाइन कक्षाएं अभी भी जारी रहेंगी। इसके साथ ही स्कूलों एवं महाविद्यालयों में कक्षाओं में छात्रों को भेजने के लिए उनके अभिभावकों की सहमति आवश्यक होगी।

गुजरात में भी खुले स्‍कूल

गुजरात में भी 26 जुलाई से सभी सरकारी और निजी स्कूल खुल गए। हालांकि, स्कूलों को सिर्फ सीनियर कक्षाओं 9वीं से 12वीं तक के छात्रों को ही बुलाने की छूट दी गयी है। साथ ही, एक बार में सिर्फ 50 फीसदी छात्रों को ही बुलाया जा सकेगा।

महाराष्ट्र में खुले 5 से 12 वीं तक के स्‍कूल

महाराष्ट्र सरकार ने 17 अगस्त को ग्रामीण क्षेत्रों में कक्षा 5 से कक्षा 8 के छात्रों और शहरी क्षेत्रों में कक्षा 8 से कक्षा 12 के छात्रों के लिए स्कूलों को फिर से खोल दिया है। जिला और स्थानीय अधिकारी कोरोना की स्थिति की समीक्षा करने के बाद अंतिम फैसला लेंगे। इस सप्ताह की शुरुआत में एक अधिकारी ने कहा कि महाराष्ट्र के कई जिलों के छात्रों के माता-पिता प्राथमिक स्कूलों और कक्षा 5 से 8 के छात्रों को फिर से खोलने की मांग कर रहे हैं।

पंजाब में खोले गए स्‍कूल

पंजाब स्कूल की शारीरिक कक्षाएं 2 अगस्त से प्री-प्राइमरी स्तर से शुरू हो गईं। विशेष रूप से सरकार ने पहले ही 26 जुलाई से कक्षा 10 से 12 के लिए स्कूलों को फिर से खोलने की अनुमति दी थी। राज्य के स्कूल शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने कहा है कि सरकार ने 2 अगस्त से सभी कक्षाओं के लिए स्कूलों को फिर से खोलने की अनुमति दी है क्योंकि इसने कोरोना के घटते मामलों के मद्देनजर प्रतिबंधों में और ढील दी है।

राजस्थान में खुलेंगे स्‍कूल

राजस्थान सरकार ने भी एक सितंबर को कक्षा 9-12 से 50 प्रतिशत क्षमता वाले स्कूलों को फिर से खोलने की अनुमति दी है। राज्य सरकार ने कहा कि शिक्षण और गैर शिक्षण कर्मचारियों को अनिवार्य रूप से 14 दिन पहले कोविड वैक्सीन की कम से कम एक खुराक लेने को आवश्‍यक बनाया गया है। हालांकि, कक्षा एक से आठ तक के छात्रों के लिए कक्षाएं ऑनलाइन मोड में संचालित की जाएंगी।

ओडिशा में 50 फीसद छात्रों को स्कूल आने की अनुमति

ओडिशा में 26 जुलाई से 10वीं और 12वीं क्लास के बच्चों के स्कूल खोले गए। 50 फीसद छात्रों को ही आने की अनुमति रहेगी। वहीं, ऑनलाइन क्लास भी जारी रहेगी। स्कूल का टाइम सुबह 10 बजे से दोपहर 1:30 बजे तक स्कूल रहेगा। इस दौरान लंच ब्रेक नहीं होगा।