दिल्ली पुलिस व सीएपीएफ की परीक्षा में पहुंचे दो मुन्नाभाई दबोचे गए, छोटे भाई की जगह पहुंचा था बड़ा भाई

 

अन्य अभ्यर्थी के स्थान पर परीक्षा देने पहुंचे थे आरोपित
ईकोटेक तीन कोतवाली प्रभारी भुवनेश शर्मा ने बताया कि दारोगा भर्ती के लिए शारीरिक दक्षता परीक्षा सुत्याना गांव में चल रही है। राजस्थान के अलवर निवासी अभ्यर्थी रवि कुमार ने दारोगा भर्ती की लिखित परीक्षा दी थी ।

ग्रेटर नोएडा । ईकोटेक तीन कोतवाली क्षेत्र स्थित सीआइएसएफ में चल रही दिल्ली पुलिस व केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ)  की शारीरिक परीक्षा में किसी अन्य अभ्यर्थी के स्थान पर परीक्षा देने पहुंचे दो मुन्नाभाई को गिरफ्तार किया गया है। आरोपित राजस्थान के अलवर निवासी है। जिस युवक ने लिखित परीक्षा दी, शारीरिक परीक्षा देने उसका भाई आ गया। फोटो व हस्ताक्षर का मिलान नहीं होने पर फर्जीवाड़ा पकड़ा गया। पुलिस ने आरोपित के कब्जे से फर्जी दस्तावेज बरामद किए है।

हस्ताक्षर मेल नहीं खाने के कारण खुला राज

ईकोटेक तीन कोतवाली प्रभारी भुवनेश शर्मा ने बताया कि दारोगा भर्ती के लिए शारीरिक दक्षता परीक्षा सुत्याना गांव में चल रही है। राजस्थान के अलवर निवासी अभ्यर्थी रवि कुमार ने दारोगा भर्ती की लिखित परीक्षा दी थी। उसके स्थान पर शारीरिक दक्षता परीक्षा देने उसका बड़ा भाई राहुल मीणा आया। लिखित परीक्षा देने वाले अभ्यर्थी से राहुल मीणा का हस्ताक्षर मेल नहीं खा रहा था।

छोटे भाई के बदले दे रहा था शारीरिक परीक्षा

पूछताछ करने पर रवि कुमार ने छोटे भाई के बदले शारीरिक परीक्षा देने आने की बात स्वीकार कर ली। अधिकारियों के सूचना देने पर ईकोटेक तीन कोतवाली पुलिस ने राहुल मीणा निवासी अलवर राजस्थान को गिरफ्तार किया है। वहीं दूसरे मामले में शेखर देशवाल निवासी सोनीपत, हरियाणा को गिरफ्तार किया गया है। शेखर की लिखित परीक्षा किसी अन्य व्यक्ति ने दी थी। बुधवार को वह शारीरिक परीक्षा देने पहुंचा था और पकड़ा गया। पुलिस ने बताया कि मामले में फरार चल रहे रवि मीणा को गिरफ्तार करने के लिए दबिश दी जा रही है।

पूर्व में भी पकड़े गए आरोपित

ईकोटेक तीन कोतवाली क्षेत्र स्थित केंद्र पर पूर्व में भी कई बार मुन्नाभाई पकड़े जा चुके है। जेल से जल्दी बाहर आ जाने के चलते मुन्नाभाई अपनी हरकत से बाज नहीं आते है और लगातार किसी अन्य अभ्यर्थी के स्थान पर परीक्षा देते है।