नौकरी का झांसा देकर चलती कार में महिला के साथ किया था दुष्कर्म, पुलिस ने किया दोनों को गिरफ्तार

 cebook


दोनों को कोर्ट में पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

नौकरी का झांसा देकर चलती कार में सामूहिक दुष्कर्म करने के दोनों आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपित रोहित उर्फ शेखर और नितिन गौतमबुद्ध नगर के सूरजपुर के रहने वाले हैं। दोनों को कोर्ट में पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

नई दिल्ली, संवाददाता। नौकरी का झांसा देकर चलती कार में सामूहिक दुष्कर्म करने के दोनों आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपित रोहित उर्फ शेखर और नितिन गौतमबुद्ध नगर के सूरजपुर के रहने वाले हैं। दोनों को कोर्ट में पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। उनके कब्जे से कार भी बरामद कर ली गई है।

पीड़िता ने पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि वह घरेलू सहायिका का काम करती हैं। उनके पति मध्यप्रदेश में ट्रक चलाते हैं। घर के बढ़ते खर्चों की पूर्ति के लिए वह दूसरी नौकरी की तलाश कर रही थीं। कुछ दिनों पहले उनके मोबाइल पर एक अनजान नंबर से काल आया था। काल करने वाले ने अपना नाम राेहित शर्मा बताया था। साथ ही उसने बताया था कि उसके भाई का दिल्ली में कपड़े का बड़ा शोरूम है, वह वहां पर उनकी नौकरी लगवा देगा।

बीती 16 अगस्त को उसने पीड़िता को गाजियाबाद के लाल कुआं फ्लाईओवर के पास बुलाया था। रोहित अपने दोस्त नितिन के साथ वहां कार लेकर पहुंचा। वहां से उन्हें कार में लेकर दिल्ली चल दिया। पीड़िता ने शास्त्री पार्क थाने में शिकायत दी थी, जिसमें आरोप लगाया था कि रोहित और उसके दोस्त नितिन ने चलती कार में दुष्कर्म किया।

पीड़िता ने पुलिस को कार का नंबर भी बताया था। कार के नंबर से पुलिस को पता चला कि यह सूरजपुर के पते पर पंजीकृत है। वहां पहुंच कर पुलिस ने पहले रोहित को गिरफ्तार किया। फिर नितिन को दबोच लिया। पूछताछ में राेहित ने बताया कि वह पीड़िता को पहले से जानता था। उनके बीच कुछ समय दोस्ती भी रही।