टीवी पर दिखेगा शेफ विकास खन्ना का संघर्षों से भरा जीवन शेफ विकास खन्ना की फाइल फोटो ।

 

नेशनल जियो‍ग्राफिक चैनल ‘बेरीड सीड्स’ के प्रीमियर के साथ स्‍वतंत्रता दिवस मना रहा है। यह मिशलिन शेफ विकास खन्‍ना के जीवन की कहानी है। देश में पहली बार अपने दर्शकों के लिए इंसानी जुनून और इच्‍छाशक्ति की सच्‍ची कहानी पेश करने जा रहा है।

नई दिल्ली/गुरुग्राम। शेफ विकास खन्ना का संघर्षों से भरा जीवन टीवी पर दिखेगा। नेशनल जियो‍ग्राफिक चैनल ‘बेरीड सीड्स’ के प्रीमियर के साथ स्‍वतंत्रता दिवस मना रहा है। यह मिशलिन शेफ विकास खन्‍ना के जीवन की कहानी है। देश में पहली बार अपने दर्शकों के लिए इंसानी जुनून और इच्‍छाशक्ति की सच्‍ची कहानी पेश करने जा रहा है।

फिल्म के निर्देशन कंटेंपरेरी फिल्‍मकार आंद्रेई सेवर्नी के अनुसार इस फिल्‍म में आड़े-तिरछे पैरों वाले बचपन के विकास खन्‍ना से लेकर भारतीय व्‍यंजनों को दुनिया के फलक तक ले जाने वाले शेफ के सफर को समेटा गया है। किस तरह से चलना सीखा और किस तरह कुकिंग के जादू से लोगों का दिल जीता, इस किस्‍से को विकास बड़े अद्भुत तरीके से सुनाते हैं। इस पूरे क्रम में वे दुनिया के सबसे प्रभावशाली शेफ में से एक और भारत के कल्‍चरल एंबेसडर बन गए। भारत के कलाइडस्‍कोपिक तस्‍वीरों के जरिए भारतीय संस्‍कृति, विरासत और परंपराओं की वास्‍तविक झलक पेश की गई है। यहां की सारी खूबसूरती, अपनापन और अपने बच्‍चों के सपने को पूरा करने के लिए भारतीय परिवार के त्‍याग को इस फिल्‍म में बखूबी शामिल किया गया है।

नेशनल जियो‍ग्राफिक के प्रवक्ता ने कहा कि हम ऐसी कहानियां कहने में विश्‍वास करते हैं जो नजरिए को बदले, जागरूक कर सके। कई बार तो वे कहानियां जीवन में बदलाव लाने वाली होती हैं। ‘बेरीड सीड्स’ जुनून, लगन और विश्‍वास के साथ भारतीय संस्‍कृति के प्रति विकास खन्‍ना के असीम प्‍यार की एक परिवर्तनकारी कहानी है। उन्हें विश्‍वास है कि यह कहानी दर्शकों को शेफ की जिंदगी का एक अद्भुत परिचय कराएगी।

यादों और भावनाओं को उजागर करती है बेरीड सीड्स

शेफ विकास खन्‍ना ने कहा कि बेरीड सीड्स कवियों, दार्शनिकों, मेंटर्स से लेकर परिवार के सदस्यों तक हर किसी के ज्ञान के संग्रह जैसा है, जिसने उन्हें प्रभावित और प्रेरित किया है। संघर्ष या जीत के पलों में उनकी कही गई बातें हमेशा मेरे साथ होती हैं। ‘बेरीड सीड्स’ कई यादों और भावनाओं को उजागर करती हैं, जो इतने सालों से मेरे अंदर दबी हुई थीं। उम्मीद है कि इस कहानी में लोग कुछ अपनी कहानी देख पाएंगे। लोग जो बनना चाहते हैं उसकी संभावनाएं उन्‍हें नजर आएंगी।आंद्रेई सेवर्नी ने कहा कि इस मुश्किल वक्‍त में ‘बेरीड सीड्स’ एक नया नजरिया प्रस्तुत करता है। वह बीज हम सबके अंदर है, वही हमें एकजुट करते हैं और आगे मजबूत ही होंगे। आप में नया बदलाव आएगा। उन्होंने कहा कि वह नेशनल जियोग्राफिक और उनकी बेहतरीन टीम के आभारी हैं कि उन्‍होंने अपने दर्शकों को यह फिल्‍म दिखाने का मौका दिया।

इसको फिल्‍म कारवां द्वारा वितरित किया गया है। भारत में ‘बेरीड सीड्स’ 15 अगस्‍त को रात 9 बजे नेशनल जियोग्राफिक पर प्रसारित होगा।