पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विदेश मंत्री से की अपील, अफगानिस्तान में फंसे सिखों की वतन वापसी में मदद करे सरकार

 

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की फाइल फोटो।

 सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विदेश मंत्री से अपील की है कि अफगानिस्तान के गुरुद्वारे में फंसे 200 सिखों की वतन वापसी के लिए जल्द कदम उठाए जाएं। कहा कि पंजाब सरकार इसके लिए हर मदद देने को तैयार है।

 चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विदेश मंत्री एस जयशंकर को ट्वीट कर अफगानिस्तान के एक गुरुद्वारे में फंसे 200 सिखों को जल्द वतन वापस लाने में मदद करने की मांग की है। कैप्टन ने कहा कि पंजाब सरकार उनकी सुरक्षित वापसी में हर तरह की मदद देने को तैयार है। बता दें, अफगानिस्तान में तालिबान का कब्जा होते ही अफरा तफरी का माहौल है। सभी देश अपने-अपने नागरिकों को निकालने में जुट गए हैं।

कैप्टन ने कहा कि अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा भारत के लिए अच्छा नहीं है। यह भारत के खिलाफ चीन-पाक गठजोड़ को मजबूत करेगा। यह संकेत बिल्कुल भी अच्छे नहीं हैं, हमें अपनी सभी सीमाओं पर अब अतिरिक्त सतर्क रहने की जरूरत है।

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने गत दिवस स्वतंत्रता दिवस पर कहा कि पाकिस्तान के विरुद्ध पूरी तरह सतर्क रहने की जरूरत है। पाकिस्तान हमेशा मुश्किलें खड़ी करने की ताक में रहता है। मुख्यमंत्री ने कहा ‘हम शांति चाहते हैं, लेकिन हमारे क्षेत्र में किसी भी हमलावर कार्रवाई या हमले को बर्दाश्त नहीं करेंगे।’ राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद पंजाब के लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा ‘अगर पाकिस्तान कोई मुसीबत खड़ी करता है तो हम उनको ऐसा सबक सिखाएंगे जो वह जि़ंदगी भर याद रखेगा।’ पड़ोसी मुल्कों द्वारा राज्य में हथियारों और नशीले पदार्थों की तस्करी के लिए ड्रोन का प्रयोग का जि़क्र करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने चेतावनी दी कि पाकिस्तान पंजाब में किसी भी नाज़ुक स्थिति का लाभ लेने का कोई मौका नहीं छोड़ेगा।