शिबू सोरेन ने अपनी पुत्रवधू सीता सोरेन को जारी किया नोटिस, जानें पूरा मामला

 

Shibu Sore, Jharkhand Political Updates, Hindi News जामा विधायक सीता सोरेन।

 कुछ दिनों पहले सीता सोरेन ने वामपंथी मजदूर संगठन एटक की सदस्यता ली है। उन्‍हें संगठन ने उपाध्‍यक्ष बनाया है। सीता सोरेन झारखंड विधानसभा में महिला बाल विकास समिति की सभापति हैं।

रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। झारखंड मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष शिबू सोरेन ने जामा की विधायक सीता सोरेन से स्पष्टीकरण पूछा है। उन्‍होंने सात दिनों में विधायक से जवाब मांगा है। बता दें कि सीता सोरेन ने हाल ही में वामपंथी मजदूर संगठन एटक की सदस्यता ली है। एटक ने उन्हें संगठन का उपाध्यक्ष बनाया है। झामुमो अध्यक्ष ने इसे संगठन के खिलाफ बताते हुए स्पष्टीकरण पूछा है। सीता सोरेन शिबू सोरेन की पुत्रवधू हैं।

झारखंड मुक्ति मोर्चा की केंद्रीय समिति ने जामा की विधायक सीता सोरेन को नोटिस जारी किया है। झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन की ओर से जारी शोकाज में सीता सोरेन द्वारा एटक का उपाध्यक्ष पद लेने पर आपत्ति जताते हुए जवाब मांगा गया है। झामुमो के विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक संगठन का मजदूर प्रकोष्ठ रहने के बावजूद सीता सोरेन ने दूसरे संगठन की न सिर्फ सदस्यता ली, बल्कि वह पदाधिकारी भी बनीं। झामुमो प्रमुख ने इसी आधार पर नोटिस जारी करते हुए कहा है कि यह पार्टी हित के खिलाफ है।

पूछा गया है कि किन परिस्थितियों में ऐसा निर्णय लिया गया है। विधायक एक सप्ताह में अपना जवाब भेजें। सूत्रों के मुताबिक इस संबंध में झारखंड मुक्ति मोर्चा के कई वरीय नेताओं और विधायकों ने झामुमो प्रमुख से शिकायत की थी। उधर जामा की विधायक सीता सोरेन का कहना है कि उन्हें किसी भी प्रकार का नोटिस पार्टी की ओर से जारी नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि मजदूर हित के लिए किसी संगठन से जुड़ने में कोई दिक्कत नहीं है। सभी पार्टियों से जुड़े लोग एटक में हैं।