राम दयाल मुंडा को द ग्रेट फादर ऑफ स्टेट का दर्जा देने की मांग

 

Ram Dayal Munda, Jharkhand Ranchi News राम दयाल मुंडा।
 झारखंड आंदोलनकारी संघर्ष मोर्चा ने मांग की है कि डा. रामदयाल मुंडा को द ग्रेट फादर ऑफ स्टेट का दर्जा दें। साथ ही टैगोर हिल में डा. रामदयाल मुंडा ओपन एयर थियेटर का निर्माण कर उनके सपनों को साकार किया जाए।

रांची, सं। झारखंड आंदोलनकारी संघर्ष मोर्चा इस सोमवार 23 अगस्‍त को शिक्षाविद् पद्मश्री डा. रामदयाल मुंडा की 82वीं जयंती मनाएगा। रांची के मोरहाबादी स्थित डा. रामदयाल मुंडा पार्क में सुबह 9.30 बजे से कार्यक्रम होगा। मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष राजू महतो ने बताया कि राज्य सरकार से मांग की गई है कि डा. रामदयाल मुंडा को झारखंड आंदोलनकारी के रूप में चिन्हित कर द ग्रेट फादर ऑफ स्टेट का दर्जा दें। साथ ही टैगोर हिल में डा. रामदयाल मुंडा ओपन एयर थियेटर का निर्माण कर उनके सपनों को साकार किया जाए।

उन्होंने कहा कि डा. मुंडा ने झारखंड आंदोलन को बौद्धिक व सांस्कृतिक स्तर पर गतिमान बनाने का काम किया, साथ ही पहचान भी दिलाई है। उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। डा. मुंडा ने आदिवासियों के अस्तित्व की रक्षा की आवाज यूएनओ में उठाकर विश्व पटल पर मान-सम्मान दिलाया। उन्होंने बताया कि डा. रामदयाल मुंडा शिक्षाविद् होने के साथ-साथ संस्कृति व अपनी धरोहर को बचाए रखने की कला भी जानते थे।

वे बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। हर क्षेत्र में वे निपुण थे। वे झारखंड की संस्कृति को देश-विदेश तक ले गए। उन्होंने कहा कि रामदयाल मुंडा स्वयं में एक संस्थान थे। उनके राजनीतिक, सांस्कृतिक दर्शन पर काम किया जाना चाहिए। उनके बहुत से काम अधूरे हैं। उसे पूरा करने की दिशा में आगे बढ़ना चाहिए। सरकार को इस ओर और भी बेहतर कदम उठाना चाहिए, जिससे झारखंड का नाम रोशन हो सके।

jagran