जेपी नड्डा से मिलने के बाद त्रिपुरा के CM ने मंत्रिमंडल में फेरबदल के दिए संकेत, 2023 विधानसभा चुनाव लक्ष्य

 


जेपी नड्डा से मिलने के बाद त्रिपुरा के CM ने मंत्रिमंडल में फेरबदल के दिए संकेत, 2023 विधानसभा चुनाव लक्ष्य

त्रिपुरा में साल 2023 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। मौजूदा मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब जल्द ही मंत्रिमंडल में फेरबदल कर सकते हैं। बता दें कि मुख्यमंत्री ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करने के बाद यह निर्णय लिया है।

नई दिल्ली, एएनआइ। त्रिपुरा में साल 2023 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। मौजूदा मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब जल्द ही मंत्रिमंडल में फेरबदल कर सकते हैं। बता दें कि मुख्यमंत्री ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करने के बाद यह निर्णय लिया है। रिपोर्ट के मुताबिक, बिप्लब कुमार देब और जेप्पी नड्डा द्वारा पिछले हफ्ते हुई बैठक के दौरान त्रिपुरा में पार्टी के मजबूती के लिए बताचीत हुई। माना जा रहा है कि पार्टी ने राज्य मंत्रिमंडल में यह फेरबदल का फैसला ऐसे समय पर किया है जब टीएमसी नेता अभिषेक बर्नजी राज्य के दौरे पर हैं।

गठबंधन, संगठनात्मक फेरबदल और कैबिनेट विस्तार से लेकर कई मुद्दों पर चर्चा

रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य मंत्रिमंडल में फेदबदल के अलावा जेपी नड्डा के साथ हुई बैठक के दौरान टीआईपीआरए के प्रमुख प्रद्योत किशोर देब बर्मन के साथ संभावित गठबंधन की बातचीत पर भी चर्चा हुई। हालांकि, चुनाव आने पर सब कुछ तय हो जाएगा। बैठक में छह महीने के लिए राज्य में बेहतर समन्वय और संगठन को मजबूत करने पर ध्यान केंद्रित किया। बैठक में नेताओं ने राज्य में टीएमसी की गतिविधियों के अलावा संभावित गठबंधन, संगठनात्मक फेरबदल और कैबिनेट विस्तार से लेकर कई मुद्दों पर चर्चा की।रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस की पूर्व सांसद सुष्मिता देव ने अपनी पार्टी से इस्तीफा दे दिया है, इस वजह से यह बैठक आज महत्वपूर्ण हो गई है। पार्टी में भाजपा और कांग्रेस दोनों के बीच बातचीत हुई। भाजपा में टीमएसी के नेताओं को भी शामिल किया जा रहा है।

60 विधानसभा सीटों के लिए होना है चुनाव

बैठक में बताया गया है राज्य बाहरी लोग राज्य में अशांति पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे में हमे संगठन को मजबूत रखने के लिए हल करने की आवश्यकता है। साथ ही हमें संभावित गठबंधनों को भी देखने की जरूरत है। बता दें कि अगली साल त्रिपुरा में 60 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव होना है।