अफगानिस्तान के स्टार राशिद खान और नबी के IPL 2020 में खेलने पर उठे सवाल, सनराइजर्स की तरफ से आया जवाब

 

अफगानिस्तान के स्पिनर राशिद शान- फोटो ट्विटर पेज

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की बहुचर्चित लीग में इंडियन प्रीमियर लीग में आफगानिस्तान के काफी खिलाड़ी हिस्सा लेते हैं। देश में पैदा हुआ हालात के बाद अब इन सभी के टूर्नामेंट में हिस्सा लेने को लेकर लगातार चर्चा हो रही है।

नई दिल्ली, एएनआइ। अफगानिस्तान में पैदा हुए राजनीतिक हालत से इस वक्त पूरी दुनिया वाकिफ है। मौजूदा स्थिति ऐसी है जहां अफगानिस्तान क्रिकेट को लेकर सभी चिंतित हैं। तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया है और ऐसे में देश के क्रिकेट बोर्ड और टीम का भविष्य सवालों के घेरे में है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की बहुचर्चित लीग में इंडियन प्रीमियर लीग में आफगानिस्तान के काफी खिलाड़ी हिस्सा लेते हैं। देश में पैदा हुआ हालात के बाद अब इन सभी के टूर्नामेंट में हिस्सा लेने को लेकर लगातार चर्चा हो रही है।

अफगानिस्तान के स्टार स्पिनर राशिद खान और ऑलराउंडर मोहम्मद नबी फ्रेंचाइजी टीम सनराइजर्स हैदराबाद टीम का हिस्सा हैं। इसके अलावा भी कई खिलाड़ी आइपीएल में खेलते हैं। हैदराबाद टीम के कार्यकारी अधिकारी ने इस बात को पक्का किया है कि टीम को खिलाड़ियों के टूर्नामेंट में भाग लेने पर अफगानिस्तान में पैदा हालात से कोई फर्क नहीं पड़ेगा।के शानमुगम ने कहा, जो कुछ भी अफगानिस्तान में इस वक्त चल रहा है हमने अब तक इस बारे में उनसे किसी तरह की बात नहीं की है। वैसे यह बात तय है कि दोनों (राशिद खान और मोहम्मद नबी) ही खिलाड़ी टूर्नामेंट खेलने के लिए उपलब्ध रहेंगे।

टीम के यूएई रवाना होने को लेकर बात करते हुए उन्होंने कहा, जहां तक यूएई में खेले जाने वाले टूर्नामेंट के बाकी बचे हुए मुकाबलों की बात है तो हमारी टीम इस महीने के अंत में 31 अगस्त को रवाना होने वाली है।

पिछले महीने ही बीसीसीआइ ने आइपीएल के बाकी बचे हुए 31 मुकाबलो के कराए जाने का कार्यक्रम जारी किया था। इसी साल मार्च में आइपीएल के 14वें सीजन की शुरुआत हुई थी लेकिन टीम बबल में खिलाड़ियों को कोरोना संक्रमित होने के बाद इसे स्थगित करने का फैसला लिया गया। 19 सितंबर से 15 अक्टूबर के बीच कुल 27 दिन में बाकी बचे हुए सारे मुकाबलों को कराया जाना है। पहला मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच होगा।टूर्नामेंट के 13 मुकाबलों को दुबई में आयोजित किए जाएंगे जबकि 10 मुकाबलों की मेजबानी का जिम्मा शारजाह को दिया गया है। 8 मैच अबु धाबी में आयोजित होना है।