स्वतंत्रता दिवस पर RSS प्रमुख का बड़ा बयान- जब तक हम चीन पर निर्भर रहेंगे, तबतक उनके सामने झुकना पड़ेगा

 

RSS प्रमुख का बड़ा बयान- जब तक हम चीन पर निर्भर रहेंगे, तबतक उनके सामने झुकना पड़ेगा
स्वतंत्रता दिवस पर भारत की आजादी पर अपने विचार रखते हुए उन्होंने चीन पर निर्भरता को लेकर सवाल भी उठाया। भागवत ने कहा हम कितना भी चीन के बारे में चिल्लाएं लेकिन आपके फोन में जो भी चीजें हैं वह चीन से ही आती हैं।

नई दिल्ली, एएनआइ। राष्ट्रीय स्वयसेवक संघ (RSS) प्रमुख ने स्वतंत्रता दिवस पर बड़ा बयान दिया है। मुंबई के राजा स्कूल में झंडा फहराने के बाद मोहन भागवत ने कहा कि जबतक हम चीन पर निर्भर रहेंगे तबतक हमें उनके सामने झुकना पड़ेगा। स्वतंत्रता दिवस पर भारत की आजादी पर अपने विचार रखते हुए उन्होंने चीन पर निर्भरता को लेकर सवाल भी उठाया। भागवत ने कहा,' हम कितना भी चीन के बारे में चिल्लाएं, लेकिन आपके फोन में जो भी चीजें हैं वह चीन से ही आती हैं। जब तक चीन पर निर्भरता रहेगी तक तक चीन के सामने झुकना पडेगा'।

इसके साथ ही मोहन भागवत ने कहा कि स्वदेशी का मतलब सब कुछ छोड़ देना नहीं है। अंतरराष्ट्रीय व्यापार जारी रहेगा,लेकिन हमारी शर्तों पर। इसके लिए हमें आत्मनिर्भर बनना होगा। भागवत ने कहा कि आत्मनिर्भरता रोजगार पैदा करती है। नहीं तो हमारी नौकरी चली जाती है और हिंसा का रास्ता खुल जाता है। तो स्वदेशी का अर्थ है आत्मनिर्भरता और अहिंसा हैं।गौरतलब है कि  भारत-चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (lAC) की रक्षा में तैनात भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आइटीबीपी) के 20 जवानों को पिछले साल पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में दोनों देशों की सेनाओं के बीच गतिरोध और संघर्ष के दौरान बहादुरी प्रदर्शित करने के लिए वीरता के पुलिस पदक (पीएमजी) से सम्मानित किया गया है।