शेयर बाजार में निवेश करने जा रहे, तो जानिए इस सप्ताह कैसा रहेगा Sensex, Nifty का हाल



गुरुवार को मुहर्रम की छुट्टी की वजह से शेयर बाजारों में एक दिन कम ट्रेडिंग होगी

इक्विटी रिसर्च प्रमुख निराली शाह ने कहा कि India Incs की पहली तिमाही की अधिकांश कमाई उम्मीद से ज्यादा मजबूत थी और इस दौरान कोई भी बड़ा बिजनेस इवेंट देखने को नहीं मिला था वैश्विक संकेतों से बाजार को सही दिशा का मार्गदर्शन मिलने की उम्मीद है।

नई दिल्ली, पीटीआइ। कंपनियों के तिमाही नतीजे जारी करने का सीजन लगभग समाप्त हो गया है। ऐसे में इक्विटी इंवेस्टर इस सप्ताह वैश्विक रुख को ध्यान में रखते हुए निवेश करेंगे। वहीं, गुरुवार को मुहर्रम की छुट्टी की वजह से शेयर बाजारों में एक दिन कम ट्रेडिंग होगी। Samco Securities की प्रमुख (इक्विटी रिसर्च) निराली शाह ने कहा, ''पहली तिमाही में अधिकतर भारतीय कंपनियों के तिमाही परिणाम उम्मीद से बेहतर रहे। ऐसे में किसी तरह का प्रमुख बिजनेस इवेंट नहीं होने के कारण घरेलू शेयर बाजारों में वैश्विक रुख के आधार पर ट्रेडिंग होने की उम्मीद है।''

Swastika Investmart Ltd के शोध प्रमुख संतोष मीणा ने कहा कि "घरेलू मोर्चे पर सोमवार को थोक महंगाई दर के आंकड़े जारी किए जाएंगे। इसके अलावा हमारे बाजार की नजर एफआईआई और डॉलर इंडेक्स के व्यवहार पर भी होगी।"

Geojit Financial Services के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा है कि, "सकारात्मक आर्थिक आंकड़े, इकोनॉमी में सुधार की ओर इशारा कर रहे हैं, बाजार में लंबी अवधि के लिए तेजी रहने की उम्मीद है, जबकि निकट अवधि में छोटे सुधार की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है।"

पिछले सप्ताह के दौरान, 30 शेयरों वाले BSE बेंचमार्क सेंसेक्स में 1,159.57 अंक यानी 2.13 फीसद का उछाल दर्ज किया गया। शुक्रवार को सेंसेक्स अपने अभी तक के उच्चतम स्तर 55,487.79 पर पहुंच गया था,इस दौरान सेंसेक्स ने पहली बार 55,000 का आंकड़ा पार करने में भी कामयाबी हासिल की।

 रिटेल रिसर्च के प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा कि "इक्विटी बाजार में मजबूत और सकारात्मक गति के जारी रहने की संभावना है क्योंकि लॉकडाउन में ढील देने के कारण आर्थिक गतिविधियों में और तेजी आने की उम्मीद की जा रही है। कॉर्पोरेट आय के क्षेत्र में उम्मीद से अच्छा प्रदर्शन देखे जाने की उम्मीद का जा सकती है।" इस दौरान रुपये-डॉलर के रुख और विदेशी संस्थागत निवेशकों की चाल के अलावा ब्रेंट क्रूड पर भी निवेशकों की नजर रहेगी।