25 भारतीय IS समर्थकों के अफगानिस्तान से देश में पहुंचने का अंदेशा, जारी किया गया अलर्ट

 

आइएस समर्थक 25 भारतीयों के भारत पहुंचने का अंदेशा

पिछले महीने अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबान ने विभिन्न जेलों को तोड़ दिया था। इसके बाद इन भारतीयों के देश में आने की बात कही जा रही है। इन्हें भारत के लिए एक बड़ा खतरा माना जाता है।

नई दिल्ली, एएनआइ। इस्लामिक स्टेट के प्रति निष्ठा रखने वाले 25 भारतीयों के एक समूह के बारे में खुफिया अधिकारियों का मानना है कि वे अफगानिस्तान से भारत पहुंचने की फिराक में हैं। पिछले महीने अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबान ने विभिन्न जेलों को तोड़ दिया था। इसके बाद इन भारतीयों के देश में आने की बात कही जा रही है। इन्हें भारत के लिए एक बड़ा खतरा माना जा रहा है। 

आतंकी समूह आइएस से संपर्क रखने के कारण ये सभी 25 भारतीय राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) के वांछितों की सूची में हैं। एनआइए अधिकारियों का कहना है कि इन भारतीयों की मौजूदा स्थिति के बारे में वे अवगत नहीं हैं। लेकिन जांच से पता चलता है कि ये सभी अफगानिस्तान के नांगरहार प्रांत में आइएस में शामिल हो गए थे।

खुफिया इनपुट को देखते हुए सभी भारतीय हवाई अड्डों और सीपोर्ट को अलर्ट कर दिया गया है, ताकि ये आइएस समर्थक अफगानिस्तान से भारत में प्रवेश न कर सकें। इन 25 लोगों में ज्यादातर केरल में आइएस-प्रेरित माड्यूल से जुड़े हुए हैं। इनके बारे में माना जाता है कि आइएस में शामिल होने के लिए वे 2016 से 2018 के बीच भारत से अफगानिस्तान पहुंचे। दिल्ली, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में आइएस-प्रेरित माड्यूल की जांच के दौरान एनआइए को इनके बारे में पता चला। एनआइए के एक अधिकारी ने कहा कि इनमें से कुछ लोगों के बारे में माना जा रहा है कि वे मारे जा चुके हैं। लेकिन विदेशी एजेंसियों ने इसकी पुष्टि नहीं की है।