कोरोना से मुकाबले के लिए तेलंगाना में प्रतिदिन 3 लाख लोगों को लगाया जाएगा टीका

 

कोरोना से मुकाबले के लिए तेलंगाना में प्रतिदिन 3 लाख लोगों को लगाया जाएगा टीका
मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कोविड-19 के खिलाफ विशेष अभियान चलाने और रोजाना तीन लाख लोगों को टीका लगाने का निर्देश दिए हैं। कोरोना से मुकाबला करने के लिए तेलंगाना में टीकाकरण पर पर ज्यादा से ज्यादा जोर दिया जा रहा है।

हैदराबाद, पीटाआइ। कोरोना से मुकाबला करने के लिए तेलंगाना में टीकाकरण पर पर ज्यादा से ज्यादा जोर दिया जा रहा है। अब प्रदेश में रोज 3 लाख लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कोविड-19 के खिलाफ विशेष अभियान चलाने और रोजाना तीन लाख लोगों को टीका लगाने का निर्देश दिए हैं।

रविवार रात जारी एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया कि हालांकि, कोरोना का प्रसार नियंत्रण में है, लेकिन टीकाकरण का विशेष अभियान चलाया जाना चाहिए ताकि लोगों को भविष्य में महामारी के कारण नुकसान न हो। मुख्यमंत्री राव ने चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को राज्य में कोरोना वायरस से बचाने के लिए प्रतिदिन 3 लाख लोगों का टीकाकरण करने के लिए एक विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने सीएम के संज्ञान में लाया कि सरकारी और निजी शिक्षण संस्थान खुलने के बावजूद, वायरस का अधिक प्रभाव नहीं है और सीओवीआईडी ​​​​-19 मामलों के बढ़ने की कोई संभावना नहीं है। अधिकारियों ने राव को बताया कि राज्य में 18 वर्ष से अधिक आयु के 2.80 करोड़ लोग हैं और वे टीकाकरण के पात्र हैं। अब तक 1.42 करोड़ लोगों को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है, जबकि 53 लाख ने अपनी दूसरी खुराक भी पूरी कर ली है और 1.38 करोड़ लोगों को टीका लगाया जाना बाकी है। इसके बाद मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को स्कूलों, कालेजों और अन्य सरकारी और निजी भवनों को टीकाकरण केंद्रों के रूप में उपयोग करने के भी निर्देश दिए हैं।

देश में कोरोना की ताज स्थिति

भारत में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 24 घंटों संक्रमण के 27,254 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि इससे एक दिन पहले 28 हजार से ऊपर मामले सामने आए थे। वहीं, ताजा मामलों में से 20 हजार से ज्यादा केस सिर्फ केरल से दर्ज किए गए हैं। बीते 24 घंटों में 219 कोरोना मरीजों की मौत हो गई है, जिसमें से 67 मौतें केरल में हुई हैं।