राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों को 69 करोड़ 51 लाख से अधिक वैक्सीन डोज प्रदान की गई: स्वास्थ्य मंत्रालय

 

राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों को 69 करोड़ 51 लाख से अधिक COVID वैक्सीन खुराक प्रदान की गई: स्वास्थ्य मंत्रालय
राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को अबतक 69 करोड़ 51 लाख से अधिक कोविड -19 वैक्सीन खुराक प्रदान की जा चुकी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार को टीकाकरण के आंकड़े पेश कर बताया गया कि वैक्सीन की 7793360 खुराक पाइपलाइन में हैं।

नई दिल्ली, एएनआइ।‌ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक 69 करोड़ 51 लाख से अधिक कोविड -19 वैक्सीन खुराक प्रदान की जा चुकी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार को टीकाकरण के आंकड़े पेश किए गए हैं। मंत्रालय ने यह भी बताया कि 5.31 करोड़ से अधिक डोज अभी भी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों व निजी अस्पतालों के पास उपलब्ध हैं, जिन्हें इस्तेमाल किया जाना है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि, 'भारत सरकार (मुफ्त चैनल) के माध्यम से और प्रत्यक्ष राज्य खरीद श्रेणी के माध्यम से अब तक राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को 69 करोड़, 51 लाख, 79 हजार, 965 (69,51,79,965) वैक्सीन खुराक प्रदान की जा चुकी हैं। इसके अलावा, 77 लाख, 93 हजार, 360 (77,93,360) खुराक पाइपलाइन में हैं।'

टीके की खुराक ‌ (7 सितंबर 2021 तक के आंकड़े)

आपूर्ति                           ‌ 69,51,79,965

पाइपलाइन में                   77,93,360 ‌

शेष उपलब्ध  ‌                   5,31,15,610

साथ ही मंत्रालय ने आगे कहा कि 5 करोड़, 31 लाख, 15 हजार, 610 (5,31,15,610) शेष और अप्रयुक्त COVID वैक्सीन खुराक अभी भी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के पास उपलब्ध हैं,'

भारत में टीकाकरण अभियान तेजी से चलाया जा रहा है। राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के हिस्से के रूप में, भारत सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मुफ्त में COVID टीके उपलब्ध कराकर उनका समर्थन कर रही है। सरकार का लक्ष्य है जल्द से जल्द संपूर्ण देशवासियों को टीकाकरण लगाया जाए। बता दें कि 21 जून से कोविड-19 टीकाकरण के नए चरण की शुरुआत हुई थी, जो अब तक जारी है।अधिक टीकों की उपलब्धता, राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के लिए वैक्सीन उपलब्धता के माध्यम से टीकाकरण अभियान को तेज किया गया है, ताकि उनके द्वारा बेहतर योजना बनाई जा सके और वैक्सीन आपूर्ति सुव्यवस्थित किया जा सके।

COVID-19 टीकाकरण अभियान के सार्वभौमिकरण के नए चरण में, केंद्र सरकार देश में वैक्सीन निर्माताओं द्वारा उत्पादित किए जा रहे टीकों का 75 प्रतिशत राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को खरीद और आपूर्ति (मुफ्त) करेगी।