जेड श्रेणी की सुरक्षा मिलते ही बंगाल BJP अध्‍यक्ष सुकांत मजूमदार बोले, मैं तो स्कूटर पर चला करता था अब मुझे थोड़ी मुश्किल होगी

 


बंगाल के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को जेड श्रेणी की सुरक्षा

बंगाल के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है। अब उनकी सुरक्षा में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल(सीआइएसएफ) के 35 जवान तैनात रहेंगे। सीआइएसएफ को इस संबंध में शुक्रवार को ही केंद्रीय गृह मंत्रालय से आदेश प्राप्त हो गए हैं।

राज्य ब्यूरो, कोलकाताः बंगाल के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है। अब उनकी सुरक्षा में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल(सीआइएसएफ) के 35 जवान तैनात रहेंगे। सीआइएसएफ को इस संबंध में शुक्रवार को ही केंद्रीय गृह मंत्रालय से आदेश प्राप्त हो गए हैं। बता दें कि मजूमदार को दिलीप घोष की जगह बंगाल भाजपा का अध्यक्ष बनाया गया है।

घोष को भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। इससे पहले दिलीप घोष को पहले वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा थी। परंतु, उन पर और उनके काफिले पर कई बार हमले हुए थे। इसके बाद उनकी सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। उपचुनाव के मद्देनजर वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष की पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष से भी अधिक सुरक्षा दी जा रही है। इस संदर्भ में सुकांत मजूमदार ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय को लगता है कि आगे खतरा है। आइबी के इनपुट के आधार पर ही मेरी सुरक्षा बढ़ाई गई होगी। मेरे लिए थोड़ी मुश्किल है, क्योंकि बालुरघाट में मैं स्कूटर पर चला करता था, अब शायद थोड़ी दिक्कत होगी।

कालीघाट में नेता के पार्थिव शरीर के साथ भाजपा के जुलूस को लेकर शुक्रवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि सड़े हुए कुत्ते यदि उनके(भाजपा नेता) घर के सामने फेंके जाएंगे तो कैसा लगेगा? इसी के विरोध में हाजरा में शनिवार को चुनाव बाद हिंसा में मारे गए कार्यकर्ताओं के स्वजनों को साथ लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि बंगाल में लाशों की राजनीति तो ममता बनर्जी ने शुरू की थी जब कोलकाता में लाश के साथ वह विरोध प्रदर्शन किया करती थीं। यह सड़े हुए मांस की संस्कृति भी उनका ही आयातित है। कोलकाता के लोगों को भगाड़(कचरा फेंके जाने वाले स्थान) का मांस खिलाया। अब सड़े हुए कुत्ते की बात कह रही हैं।