भारत के दौरे पर हैं बांग्लादेश के मंत्री डा हसन महमूद, आज जयशंकर संग मुलाकात में द्विपक्षीय मुद्दों पर हुई बातचीत

 

भारत के दौरे पर हैं बांग्लादेश के मंत्री डा हसन महमूद, आज जयशंकर संग मुलाकात में द्विपक्षीय मुद्दों पर वार्ता
जयशंकर ने ट्वीट किया बांग्लादेश के सूचना एवं प्रसारण मंत्री हसन महमूद से मिलकर खुशी हुई। हमारा द्विपक्षीय सहयोग सभी क्षेत्रों में तेजी से आगे बढ़ रहा है। इस संबंध में मीडिया और सार्वजनिक धारणाओं पर चर्चा की गई है।

नई दिल्ली, पीटीआइ। भारत के दौरे पर आए बांग्लादेश के सूचना एवं प्रसारण मंत्री हसन महमूद ने आज भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर से मुलाकात की। इस दौरान दोनों मंत्रियों ने द्विपक्षीय मुद्दों पर बातचीत की। जयशंकर ने ट्वीट किया, 'बांग्लादेश के सूचना एवं प्रसारण मंत्री हसन महमूद से मिलकर खुशी हुई। हमारा द्विपक्षीय सहयोग सभी क्षेत्रों में तेजी से आगे बढ़ रहा है। इस संबंध में मीडिया और सार्वजनिक धारणाओं पर चर्चा की गई है।' बता दें कि महमूद भारत के आधिकारिक दौरे पर हैं।

बता दें कि बीते दिन हसन महमूद ने बंगबंधु मीडिया सेंटर का उद्घाटन किया था। प्रेस क्लब आफ इंडिया में यह उद्घाटन किया गया गया था। इस खास मौके पर महमूद ने कहा था किय ये भारत और बांग्लादेश के रिश्ते को और मजबूत करेगा। साथ ही कहा था कि यह निश्चित रूप से बांग्लादेश और भारत के बीच संबंधों को मजबूत करेगा। पीएम मोदी और पीएम शेख हसीन के नेतृत्व में इसने नई ऊंचाई हासिल की है।

वहीं भारत में बांग्लादेश के उच्चायुक्त, मोहम्मद इमरान ने कहा, यह भारत और बांग्लादेश के बीच राजनयिक संबंधों का 50 वां वर्ष है। उन्होंने कहा, 'भारतीय मीडिया ने बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और भारत-बांग्लादेश संबंधों को बढ़ावा दिया है'।

आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा मीडिया सेंटर

बता दें कि मीडिया सेंटर आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। इसमें प्रेस क्लब आफ इंडिया की पहली मंजिल पर एक प्रदर्शनी हाल और पुस्तकालय होगा।

बता दें कि इससे पहले एक कार्यक्रम में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा था कि दुनिया अंतरराष्ट्रीय संबंधों के नए चरण में प्रवेश कर रही है। मौजूदा वक्‍त में यदि हम वैश्विक दबदबे के लिहाज से देखें तो अमेरिका एक मजबूत शक्ति के रूप में स्पष्ट रूप से संघर्ष कर रहा है।

इसके अलावा डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन में हुई संयुक्त आयोग की बैठक में जयशंकर ने कहा था कि पर्यावरण की सुरक्षा के लिहाज से डेनमार्क भारत का बेहद खास सहयोगी है। उसके द्वारा किए जा रहे बेहतर कार्योँ को अपनाकर भारत भी लाभान्वित हो सकता है।