तालिबान के साथ खड़े हैं दिग्विजय सिंह, महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला : केंद्रीय मंत्री

 

केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी । (फोटो- एएनआइ)
केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी ने दिग्विजय सिंह महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला पर निशाना साधते हुए कहा है कि इनके जैसे नेता तालिबान के साथ खड़े हैं। हमारी सरकार में सबसे ज्यादा महिला मंत्री हैं और महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए लगातार काम कर रहे हैं।

नई दिल्ली, एएनआइ। केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी ने शुक्रवार को कहा कि दिग्विजय सिंह, महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला जैसे नेता तालिबान के साथ खड़े हैं। उन्होंने पूछा कि महिलाओं को लेकर क्या वे तालिबान के विचारों से सहमत हैं? यदि नहीं तो इसका उन्हें खुलकर विरोध करना चाहिए। मोहन भागवत ने यह नहीं कहा था कि महिलाओं को सिर्फ घर के कामकाज तक सीमित रहना चाहिए। हमारी सरकार में सबसे ज्यादा संख्या में महिला मंत्री हैं और महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए हम लगातार काम कर रहे हैं। यह हमेशा से हमारी प्राथमिकता रही है। हम उन्हें सबसे अच्छी शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण उपलब्ध कराने के लिए काम कर रहे हैं।

इससे पहले मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने दावा किया था कि महिलाओं को लेकर आरएसएस और तालिबान के विचार समान हैं। उन्होंने ट्वीट किया, तालिबान कहता है कि महिलाएं मंत्री बनने के योग्य नहीं हैं। मोहन भागवत ने कहा है कि महिलाओं को घर में रहना चाहिए और घरेलू कामकाज देखना चाहिए। क्या ये दोनों समान विचार नहीं हैं?

कपिल सिब्बल के ट्वीट पर टेनी ने कहा कि इन लोगों के लिए सब कुछ चुनाव के बारे में ही है। लोगों ने उन्हें खारिज कर दिया है। अफगानिस्तान को लेकर अपनी नीति पर हमने वास्तव में अच्छा काम किया है। हमने अपने लोगों को वहां से निकाला है और निरंतर उसके सामने स्पष्ट किया है कि हम अपने लोगों को सुरक्षित रखना चाहते हैं। सिब्बल ने कहा था कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले केंद्र सरकार अफगानिस्तान में तालिबान शासन का अपने फायदे के लिए लाभ उठाने का प्रयास करेगी।

मायावती द्वारा भीम राजभर को टिकट देने पर उन्होंने कहा, 'मायावती और उनकी पार्टी का काम और विचार सत्ता हासिल करने के इर्द-गिर्द घूमते हैं। मुख्तार अंसारी को टिकट किसने दिया? उसके भाई को टिकट किसने दिया, जो अभी भी सांसद है? यह चिंताजनक बात है कि किसी पूर्व मुख्यमंत्री को अपने राज्य में माफिया के बारे में पता नहीं है। वह यह सब इसलिए कह रही हैं क्योंकि हमारी सरकार ने अंसारी सहित माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई की है। सदस्य उनकी पार्टी छोड़ रहे हैं। उन्होंने जनता का विश्वास खो दिया है।'

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने शुक्रवार को कहा कि राज्य विधानसभा चुनाव में मुख्तार अंसारी के स्थान पर मऊ विधानसभा क्षेत्र से पार्टी अपने प्रदेश अध्यक्ष भीम राजभर को मैदान में उतारने की घोषणा करते हुए कहा कि किसी भी माफिया या 'बाहुबली' को पार्टी का टिकट नहीं मिलेगा। यूपी विधानसभा चुनाव अगले साल होने वाले हैं।