हरियाणा की किस जेल में लिखी गई थी गोगी के मर्डर की स्क्रिप्ट

 

पढ़िये- हरियाणा की किस जेल में लिखी गई थी जितेंद्र मान उर्फ गोगी के मर्डर की स्क्रिप्ट
सोनीपत जेल में ही टिल्लू ताजपुरिया ने गोगी की हत्या के लिए जयदीप उर्फ भोपा से बातचीत की और दोनों ने मिलकर इसकी साजिश रची थी। पुलिस का मानना है कि जयदीप दिल्ली की अदालत में गोगी पर हमला करने टिल्लू ताजपुरिया के इशारे पर ही गया था।

नई दिल्ली/सोनीपत, संवाददाता। दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में दिल्ली पुलिस के हाथों मारा गया जयदीप उर्फ भोपा जिले के कामी गांव का था। वह कमल उर्फ बच्ची गैंग का सरगना था। वह 2017 में सोनीपत जेल में बंद रहने के दौरान शातिर सुनील उर्फ टिल्लू ताजपुरिया के संपर्क में आया था। उसके बाद दोनों गैंग मिलकर अपराध करने लगे। बताया जाता है कि जेल में ही टिल्लू ने गोगी की हत्या के लिए भोपा से बातचीत की और दोनों ने मिलकर इसकी साजिश रची थी। पुलिस का मानना है कि जयदीप दिल्ली की अदालत में गोगी पर हमला करने टिल्लू ताजपुरिया के इशारे पर ही गया था। पुलिस ने भी जयदीप के गैंग के शूटर्स की तलाश शुरू कर दी है।

जयदीप उर्फ भोपा कामी गांव के सेवानिवृत्त फौजी जयवीर सिंह का इकलौता पुत्र था। उसके दादा जयनारायण सिंह भी फौज में रहे थे। 12वीं पास जयदीप कमल उर्फ बच्ची के नाम से गैंग चलाता था, जिसमें करीब 15 शार्प शूटर हैं। एक मामले में जयदीप 2017 में सोनीपत जेल में बंद था। उस समय शातिर सुनील उर्फ टिल्लू ताजपुरिया भी सोनीपत जेल में था। दोनों की जेल में दोस्ती हुई और उसके बाद मिलकर अपराध करने लगे। माना जा रहा है कि टिल्लू ताजपुरिया ने सोनीपत जेल में ही गोगी की हत्या का जिम्मा जयदीप को दिया था। तब से जयदीप और उसके साथी शार्प शूटर गोगी की हत्या की फिराक में थे। जयदीप उर्फ भोपा अपने शार्प शूटर्स के साथ कई गैंग के संपर्क में रहा था। उसके खिलाफ जिले में एक हत्या, एक लूट और दो चोरी के मामले दर्ज है। यह सभी 2018 तक के ही हैं। उसके बाद से जयदीप ज्यादातर दिल्ली के अपराध में सक्रिय रहा। उसके साथ ही हरियाणा में बच्ची गैंग की सक्रियता कम हो गई थी। उधर, दिल्ली में गैंगवार के बाद हरियाणा में पुलिस ने सक्रियता बढ़ा दी है। दरअसल, गोगी गैंग और बच्ची गैंग दोनों ही दिल्ली के साथ हरियाणा में भी सक्रिय रहे हैं।

जशनदीप सिंह रंधावा (एसपी-सोनीपत) का कहना है कि दिल्ली में न्यायालय में हुई फायरिंग में एक बदमाश जिले के कामी गांव का है। उसके खिलाफ चार मामले दर्ज हैं। हम हालात पर नजर रखे हैं। इनके गैंग के गुर्गों की तलाश की जा रही है।