अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष राजदूत जान केरी तीन दिवसीय दौरे पर आज आएंगे भारत, जलवायु संबंधित मुद्दों पर करेंगे चर्चा

 

पिछले महीने केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने केरी से की थी बात
पिछले महीने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष राजदूत जान कैरी से बात की थी और उन्हें बताया था कि भारत स्वच्छ ऊर्जा के क्षेत्र में अमेरिका के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध है।

नई दिल्ली, एजेंसी। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के विशेष राजदूत जान केरी रविवार को भारत आएंगे। इस तीन दिवसीय दौरे में वैश्विक जलवायु लक्ष्यों और भारत के स्वच्छ ऊर्जा एजेंडे पर चर्चा करेंगे। इस दौरान वो अपने समकक्षों से मिलेंगे। पिछले महीने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने जान केरी से बात की थी और उन्हें बताया था कि भारत स्वच्छ ऊर्जा के क्षेत्र में अमेरिका के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध है।

जान केरी से बातचीत के दौरान केंद्रीय मंत्री ने भारत-अमेरिका जलवायु, स्वच्छ ऊर्जा एजेंडा 2030 साझेदारी के तहत क्लाइमेट एक्शन एंड फाइनेंश मोबलाइजेशन डायलाग ट्रैक (सीएएफएमडी) पर चर्चा की।

आतंकवाद के खतरे की याद दिलाता रहेगा 9/11 हमला : संधू

अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने कहा है कि 11 सितंबर दुनिया में आतंकवाद के खतरे की हमेशा याद दिलाता रहेगा। दुनिया को इस खतरे के खिलाफ एकजुट होने की आवश्यकता है। भारत के राजदूत ने अमेरिका के न्यूयार्क में 9/11 स्मारक पहुंच कर हमले में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि भी अर्पित की। इस हमले में मारे गए निर्दोष लोगों को याद करने के बाद भारतीय राजदूत संधू ने एक ट्वीट भी किया। उन्होंने कहा कि हमको इस घटना से सबक लेने की जरूरत है। स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित करते समय उनके साथ भारत के महावाणिज्य दूत रणधीर जायसवाल, दूतावास और वाणिज्य दूतावास के अधिकारी भी थे। ज्ञात हो कि भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2014 में न्यूयार्क की यात्रा के दौरान स्मारक का दौरा कर हमले में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी थी।