कैप्‍टन अमरिंदर के आक्रामक तेवर, कहा- सोनिया से तीन सप्‍ता‍ह पहले भी थी इस्‍तीफे की पेशकश, सिद्धू को पंजाब का सीएम बनने से रोकेंगे

 

पंजाब के पूर्व मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह और पंजाब कांग्रेस अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू। (फाइल फोटो)

 कैप्‍टन अमरिंदर सिंह मुख्‍यमंत्री पद से हटने के बाद आक्रामक मूड में आ गए हैं। उन्‍होंने पंजाब कांग्रेस के अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू पर फिर हमला किया है। उन्‍होंने कहा कि (सिद्धू को पंजाब का सीएम बनने से रोकने को हर प्रयास करेंगे।

चंडीगढ़,एएनआइ। कैप्‍टन अमरिंदर सिंह आक्रामक तेवर में हैं। उन्‍होंने बुधवार को नवजाेत सिंह सिद्धू के संग गांधी परिवार पर भी निशाना साधा। उन्‍होंने अपने इस्तीफे को लेकर बड़ा खुलासा किया। उन्‍होंने कहा कि उन्‍होंने सानिया गांधी से तीन सप्‍ताह पहले भी इस्‍तीफे की पेशकश की थी, लेकिन उन्‍होंने पद पर बने रहने को कहा था। इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि नवजाेत सिंह सिद्धू को पंजाब का सीएम बनने से रोकेंगे। उनका सीएम बनना पंजाब के लिए खतरा होगा।

ऐसे में कैप्‍टन की जगह चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्‍यमंत्री बनने के बाद भी पंजाब कांग्रेस में विवाद थमता हुआ नहीं दिख रहा है। पंजाब के पूर्व मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह आक्रामक तेवर में आ गए हैं। उन्‍होंन बुधवार को एक बार फिर पंजाब कांग्रेस के अध्‍यक्ष नवजाेत सिंह सिद्धू पर निशाना साधा और उनको किसी हालत में पंजाब का मुख्‍यमंत्री न बनने देने की बात कही। कैप्‍टन ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब का मुख्‍यमंत्री बनने से रोकने के लिए हर तरह का प्रयास करेंगे। इसके लिए कोई भी कुर्बानी देने को तैयार हैं।

बता दें कि कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को मुख्‍यमंत्री पद से इस्‍तीफा देने के बाद भी नवजोत सिंह सिद्धू पर जमकर निशाना साधा था और उनको देश की सुरक्षा के लिए खतरा तक बता दिया था। उन्‍होंने कहा था कि सिद्धू के पाकिस्‍तान से संबंध हैं और ऐसे में वह देश की सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं। उनके मुख्‍यमंत्री बनने से पंजाब और देश के लिए खतरा पैदा होगा।

 कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि सिद्धू के पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और पाकिस्‍तानी सेना के प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा से संबंध रहे हैं। वह इमरान खान के दोस्‍त हैं और जनरल कमर जावेद बाजवा सग गले मिले थे। ऐसे में सिद्धू के यदि मुख्‍यमंत्री बने तो पंजाब सहित भारत के अन्‍य हिस्‍से के लिए खतरा पैदा हो जाएगा। बुधवार को भी उन्‍होंने इन बातों को दाेहराया।

उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान हर समय पंजाब में गड़बड़ी करने और आतंकी हमले कराने की लगातार कोशिश कर रहा है। वह ड्रोन और घुसपैठ के जरिये हथियार व नशीले पदार्थ भेजने की कोशिश कर रहा है। ऐसे में सिद्धू जैसे पा‍किस्‍तान के हिमायती का पंजाब का सीएम बनने राज्‍य के लिए कतई सही नहीं होगा।

उन्‍होंने नवजाेत सिंह सिद्धू को पंजाब का 'सीएम फेस' बनाने का भी विरोध किया। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सिद्धू को राज्य का सीएम चेहरा बनाने के किसी भी कदम का विरोध करने की अपनी मंशा दोहराई। कैप्‍टन ने कहा कि वह नवजाेत सिंह की हार सुनिश्चित करने के लिए 2022 के विधानसभा चुनावों में उनके खिलाफ एक मजबूत उम्मीदवार खड़ा करेंगे। अमरिंदर से साफ कहा, 'वह (नवजोत सिंह सिद्धू ) राज्य के लिए खतरनाक है।'

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने इसके साथ ही बड़ा खुलासा किया कि उन्‍होंने कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी से सीएम पद से अपने इस्‍तीफे की पेशकश तीन सप्‍ताह पहले हरी कर दी थी, लेकिन उस समय उन्‍होंने (सोनिया गांधी ने) इससे मना कर दिया था और सीएम बने रहने को कहा था। उन्होंने कहा ,' यदि वह मुझे फोन करतीं और सीएम पद से हटने को कहतीं ताे मैं ऐसा करता।' उन्होंने कहा, 'एक सैनिक के रूप में मुझे पता है कि मुझे अपना काम कैसे करना है और एक बार वापस बुलाए जाने पर मैं तुरंत कदम उठाता।

उन्‍होंने कहा 'प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी उनके बच्‍चे की तरह हैं। लेकिन पूरा मामला (पंजाब में सत्‍ता परिवर्तन) ऐसे नहीं होना चाहिए था। मैं आहत हूं।' उन्‍होंने कहा  कि दोनों गांधी भाई-बहन अनुभवहीन हैं और उनके सलाहकारों ने उनको गलत सलाह दी।