बाराबंकी में किशोरी ने पिता पर लगाया रिश्ता कलंकित करने का आरोप, मां को फोन कर बताई आपबीती

 

थाने तक नहीं ले गई पीआरवी, रास्ते में मामा के किया सिपुर्द।
किशोरी का बयान ग्रामीणों ने मोबाइल में रिकार्ड किया जिसमें किशोरी रिश्ते को कलंकित करने की बात कह रही है। ग्रामीणों की मौजूदगी देख आरोप‍ित प‍िता बाइक से फरार हो गया। ग्रामीणों के मुताबिक किशोरी ने बताया कि उसकी मां सूरत में है।

बाराबंकी, संवादसूत्र। बाप-बेटी के पवित्र रिश्ते को तार-तार करने की कोशिश का मामला प्रकाश में आया है। घर ले जाते वक्त रास्ते में नहर किनारे शराब पिलाने और रिश्ते को कलंकित करने का आरोप लगा है। पिता के चंगुल से भाग कर किशोरी गांव पहुंची। ग्रामीणों ने डरी सहमी किशोरी से आपबीती जानी। मां से दूरभाष पर वार्ता के बाद पीआरवी बुलाकर सुपुर्द कर दिया। इंटरनेट मीडिया पर वायरल वीडियो पीडि़त किशोरी का बताया जा रहा है।

बतातें हैं कि अयोध्या जिले के पटरंगा थाने के गांव निवासी किशोरी दरियाबाद थाने के एक गांव में बुआ के घर रह रही थी। किशोरी के मुताबिक बुआ के घर से उसे पिता बाइक से अपने घर ले जा रहा था। शुक्रवार की रात करीब दस बजे किशोरी भागते हुए चकमनियापुर गांव पहुंची और शोर मचाया। इसके बाद गांव के लोग एकत्र हुए। डरी सहमी किशोरी ने पूरी बात ग्रामीणों से बताई। ग्रामीणों ने किशोरी का बयान भी मोबाइल में रिकार्ड किया, जिसमें किशोरी रिश्ते को कलंकित करने की बात कह रही है। बतातें हैं कि ग्रामीणों की मौजूदगी देख बाइक से पिता फरार हो गया। ग्रामीण सत्यनाम के मुताबिक किशोरी ने बताया कि उसकी मां सूरत में है। दूरभाष पर मां से बात हुई, तो उसने पीआरवी बुलाकर सिपुर्द की बात कही। जिसके बाद दरियाबाद की पीआरवी मौके पर पहुंची।

किशोरी को ग्रामीणों ने पुलिस के सिपुर्द कर दिया। पीआरवी कर्मी विवेक ने बताया कि किशोरी ने पिता पर शराब पिलाने और अभद्रता करने का आरोप लगाया है। वह भाग कर गांव पहुंची थी। पिता मौके से फरार हो गया। लड़की की मां सूरत गुजरात में है। मां व नाना से बात हुई। जिसके बाद पड़ोस के गांव के निवासी मामा के सिपुर्द कर दिया गया है। मां ने बताया कि सूरत से लौटने के बाद वह शिकायत दर्ज कराएगी। थानाध्यक्ष दुर्गा प्रसाद पांडेय ने बताया कि अभी तैनाती हुई है। मामला संज्ञान में नहीं है। जानकारी कर जांचोपरांत कार्रवाई की जाएगी।

रास्ते में ही निपटाया पीआरवी ने मामला : किशोरी को शराब पिलाने की कोशिश और अभद्रता के गंभीर आरोप के मामले में भी पीआरवी की घोर लापरवाही दिखी है। मौके पर पहुंची पीआरवी ने किशोरी को थाने पर न ले जाकर रास्ते में ही मामा के सिपुर्द कर मामला रफा दफा कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद मामले ने जब तूल पकड़ा, तो किशोरी को थाने बुलाएं जाने की बात कही गई है। विवेक के मुताबिक उनके साथ पीआरवी ड्यूटी पर हेड कांस्टेबल मोहम्मद सगीर अहमद भी थे। किशोरी को थाने बुलाया गया है।