दिल्ली दौरे से पहले बोले कर्नाटक सीएम- केंद्रीय नेतृत्व के साथ नहीं होगी खाली सीटों पर चर्चा

 

मुख्यमंत्री बनने के बार दिल्ली का उनका यह चौथा दौरा है।
बोम्मई ने कहा कि इस यात्रा के दौरान भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के साथ चार खाली कैबिनेट पदों को भरने पर कोई चर्चा नहीं होगी। राज्य मंत्रिमंडल में वर्तमान में मुख्यमंत्री सहित 30 मंत्री हैं जबकि स्वीकृत संख्या 34 है।

बेंगलुरू, पीटीआइ। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने अपनी नई दिल्ली यात्रा से पहले मंगलवार को कहा कि चार खाली कैबिनेट पदों को भरने के संबंध में इस बार भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के साथ कोई चर्चा नहीं होगी। मुख्यमंत्री मंगलवार से नई दिल्ली के दो दिवसीय दौरे पर रहेंगे। 28 जुलाई को कार्यभार संभालने के बाद से यह उनका राष्ट्रीय राजधानी का चौथा दौरा है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात के सवाल के जवाब में बोम्मई ने कहा कि अभी उनसे से मिलने का कोई कार्यक्रम नहीं है। केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी की बेटी की शादी के रिसेप्शन में उनसे बात करूंगा। उन्होंने कहा कि इस यात्रा के दौरान भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के साथ चार खाली कैबिनेट पदों को भरने पर कोई चर्चा नहीं होगी। राज्य मंत्रिमंडल में वर्तमान में मुख्यमंत्री सहित 30 मंत्री हैं, जबकि स्वीकृत संख्या 34 है। फिलहाल बोम्मई पर कैबिनेट का विस्तार करने और चार खाली सीटों को भरने का दबाव है।

नई दिल्ली की अपनी यात्रा का विवरण देते हुए बोम्मई ने कहा कि वह आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात करेंगे, जबकि सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी और आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी से कल मुलाकात होगी।

उन्होंने कहा कि राज्य के विभिन्न प्रस्ताव हैं। नितिन गडकरी के साथ मैं अपने पीडब्ल्यूडी और राष्ट्रीय राजमार्ग प्रस्तावों पर चर्चा करूंगा, वित्त मंत्री के साथ केंद्र प्रायोजित योजनाओं के लिए धन जारी करने के संबंध में बात करूंगा और हरदीप सिंह पुरी के साथ बेंगलुरु की यात्रा के दौरान मैंने शहरी आवास और मेट्रो विस्तार जैसी विभिन्न परियोजनाओं पर चर्चा की थी। इस बारे में उनसे एक बार फिर विस्तार से चर्चा होगी।

केरल में निपाह वायरस के मामलों पर सीएम बोम्मई ने कहा कि हम केरल सीमा पर कड़ी निगरानी कर रहे हैं। विशेषज्ञों से निपाह वायरस के प्रसार और इसे रोकने के लिए आवश्यक एहतियाती उपायों के बारे में सभी जानकारी इकट्ठा करने के लिए कहा गया है। हम राज्य में इसके प्रसार को नियंत्रित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएंगे।