दो दिनों के लिए डेनमार्क जाएंगे विदेश मंत्री जयशंकर, संबंधों को मिलेगी मजबूती

 

दो दिनों के लिए डेनमार्क जाएंगे विदेश मंत्री जयशंकर
विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि विदेश मंत्री की यात्रा तीन मध्य यूरोपीय देशों के साथ हमारे द्विपक्षीय संबंधों की प्रगति की समीक्षा और यूरोपीय संघ के साथ हमारे बहुआयामी संबंधों को मजबूत करने का अवसर देगी।

 नई दिल्ली, एजेंसी। विदेश मंत्री एस जयशंकर  दो दिनों के लिए डेनमार्क जाएंगे। वहां वे डेनमार्क के विदेश  मंत्री जेप्पे कोफोड के साथ इंडो-डैनिश ज्वाइंट कमीशन (JCM) की चौथे राउंड की बैठक में शामिल होंगे। चार-पांच सितंबर को डेनमार्क दौरे के दौरान होने वाली JCM में हरित रणनीतिक साझेदारी के तहत द्विपक्षीय सहयोग की व्यापक समीक्षा की जाएगी। यह साझेदारी सितंबर 2020 में डिजिटल शिखर सम्मेलन के दौरान स्थापित की गई थी। डेनमार्क में विदेश मंत्री जयशंकर अन्य गणमान्य लोगों से भी मुलाकात करेंगे।

द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति 

विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि विदेश मंत्री की यात्रा तीन मध्य यूरोपीय देशों के साथ हमारे द्विपक्षीय संबंधों की प्रगति की समीक्षा और यूरोपीय संघ के साथ हमारे बहुआयामी संबंधों को मजबूत करने का अवसर देगी।  विदेश मंत्री की तीन मध्य यूरोपीय देशों के साथ यात्रा हमारे द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति की समीक्षा करने और यूरोपीय संघ के साथ हमारे बहुआयामी संबंधों को मजबूत करने का अवसर प्रदान करेगी।

2 सितंबर से जारी है विदेश मंत्री का विदेश दौरा 

उल्लेखनीय है कि विदेश मंत्री एस जयशंकर 2 सितंबर से 5 सितंबर तक स्लोवेनिया, क्रोएशिया और डेनमार्क के आधिकारिक दौरे पर हैं। इस क्रम में वे 2-3 सितंबर को स्लोवेनिया में थे। इसके बाद 3 सितंबर को क्रोएशिया गए और आज वे डेनमार्क जा रहे हैं। वर्तमान में यूरोपीय संघ की परिषद की अध्यक्षता स्लोवेनिया करता है।

3 सितंबर 2021 को यूरोपीय संघ के सदस्य देशों के विदेश मामलों के मंत्रियों की एक अनौपचारिक बैठक में जयशंकर को आमंत्रित किया गया था। वहीं इस यात्रा के दौरान विदेश मंत्री स्लोवेनिया में आयोजित ब्लेड स्ट्रैटेजिक फोरम (BSF) और इंडो-पैसिफिक में नियम आधारित आदेश के लिए साझेदारी’ पर पैनल चर्चा में भी शामिल हुए।