भारतीय पैरा टीम के शूटिंग कोच सुभाष बोले, दिव्यांग खिलाड़ियों के साथ काम करना बेहद आसान

 

दिव्यांग खिलाड़ियों के साथ काम करना बेहद आसान।
दिव्यांग खिलाड़ियो के साथ काम करना बहुत आसान है। बस आप उनसे प्यार कीजिये वो बहुत जल्दी आपको रिजल्ट देंगे। पैरा खिलाड़ी बहुत मेहतन कर रहे हैं। ये कहना है कि भारतीय पैरा टीम के शूटिंग कोच सुभाष राणा का।

 संवाददाता, देहरादून। भारतीय पैरा शूटिंग टीम के कोच सुभाष राणा ने कहा कि दिव्यांग खिलाड़ियो के साथ काम करना बहुत आसान है। बस आप उनसे प्यार कीजिये, वो बहुत जल्दी आपको रिजल्ट देंगे। उन्होंने ये भी कहा कि पैरा खिलाड़ी बहुत मेहतन कर रहे हैं। आने वाले समय में पैरा खिलाड़ियों के टीम में चयन की प्रक्रिया कठिन होने जा रही है।

उत्तराखंड राज्य रायफल संघ की और से बुधवार को दून लौटने पर उत्तरांचल प्रेस क्लब में सुभाष राणा का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। इस दौरान सुभाष राणा ने कहा कि प्रदेश में पैरा खिलाड़ियों के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर, ट्रेनिंग और प्रशिक्षकों की कमी है। कहा कि सरकार की पालिसी तो है, लेकिन वह पालिसी खिलाड़ियों को ओलिंपिक के लिए तैयार करने के लिए कारगर नही है।

उन्होंने कहा, खिलाड़ियों को पदक जीतने के बाद तमाम सुविधाएं मिलती है। अगर इंफ्रास्ट्रक्चर और ट्रेनिंग पर प्रतियोगिता से पहले काम किया जाए तो खिलाड़ियों के लिए बेहतर रहेगा। उन्होंने कहा कि हम पैरा खिलाड़ियों के साथ खड़े है, हमारा काम उन्हें तैयार करना है। उन्होंने कहा कि अब हम सेकंड लाइन खिलाड़ियों को तैयार कर रहे हैं।

कहा कि पैरा खिलाड़ी बहुत मेहतन कर रहे हैं। आने वाले समय में पैरा खिलाड़ियों का टीम में चयन प्रक्रिया कठिन होने जा रही है। कहा कि हमारा रयास रहेगा कि आगामी ओलिंपिक में उत्तराखंड के खिलाड़ी भी प्रतिभाव करें। इसके लिए राज्य रायफल संघ विशेष ट्रेनिंग कैंप लगाने जा रही है।