जालंधर में लुटेरे और स्नैचर बेखौफ, बुजुर्ग कारोबारी की आंख में मिर्ची झोंक सोने की चेन लूटी

 

अपने साथ हुई घटना के बारे में जानकारी देते हुए पीड़ित दिव्यांग कारोबारी दिनेश कुमार।
जालंधर में बदमाशों ने 1 महीने के अंदर ही दो बार एक दिव्यांग बुजुर्ग कारोबारी को निशाना बनाया है। हाल में दो स्कूटी सवार युवकों ने उनके गले से सोने की चेन छीन ली और मौके से फरार हो गए। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 संवाददाता, जालंधर। महानगर में चोर लुटेरों में पुलिस का खौफ खत्म हो गया है। इसकी ताजा मिसाल है बस्ती शेख इलाके के गुलाबिया मोहल्ले में देखने को मिली है। यहां बेखौफ बदमाशों ने 1 महीने के अंदर ही दो बार दिव्यांग बुजुर्ग कारोबारी दिनेश कुमार को निशाना बनाया है। शनिवार को दो स्कूटी सवार युवकों ने उनके गले में पहनी सोने की चेन छीन ली और मौके से फरार हो गए। उससे पहले उनके साथ मोबाइल और 5 हजार कैश लूट की घटना हो चुकी है। मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़ित की शिकायत दर्ज करते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है। आरोपितों की पहचान के लिए इलाके के सीसीटीवी फुटेज खंगालने शुरू कर दिए हैं। सीसीटीवी फुटेज में एक लूटेरा कैद भी हुआ है। इसके बाद अब पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर लुटेरे की पहचान करने में जुटी हुई है।

दिनेश कुमार ने बताया कि लूटेरा उनकी दुकान में यह कह कर घुसा था कि अंकल जी मुझे बचा लो। मुझे कुछ लोग दातर लेकर मारने के लिए खोज रहे हैं। उन्होंने दुकान में जगह दी तो वह उनकी आंख में मिर्ची झोंक कर सोने की चेन लेकर मौके से फरार हो गया।

मामले की जानकारी देते हुए कारोबारी दिनेश कुमार ने बताया कि शनिवार दोपहर 3 बजे के करीब अपनी दुकान पर बैठे थे। इस दौरान इस दौरान स्कूटी पर सवार होकर आए दो बदमाशों ने उनके गले से चेन छीन ली और मौके से फरार हो गए। घटना की सूचना के बाद थाना डिवीजन पांच की पुलिस मौके पर करीब आधे घंटे देर से पहुंची और पीड़ित की शिकायत पर आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है

1 महीने पहले भी हुई थी लूट की वारदात

कारोबारी दिनेश कुमार ने बताया कि करीब 1 महीने पहले भी दो स्कूटी सवार युवक उनकी दुकान पर आए थे। तब वे उनसे मोबाइल और 5000 रुपये की नकदी छीनकर फरार हो गए थे। घटना की सूचना थाना डिवीजन पांच की पुलिस को दी गई थी लेकिन मामले में अब तक किसी भी आरोपित को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। अभी पुराना मामला हल तक न हुआ था कि उससे पहले ही लुटेरों ने उनके साथ लूट की दूसरी वारदात को अंजाम दे दिया।