केंद्रीय कैबिनेट ने आटो और ड्रोन सेक्टर के लिए पीएलआई योजना को दी मंजूरी

 

स्वास्थ्य से जुड़ी बड़ी योजना को मिल सकती है मंजूरी
बैठक के दौरान आटो और ड्रोन सेक्टर के लिए पीएलआइ योजना को मंजूरी मिल सकती है। इस योजना के तहत आटो और ड्रोन सेक्टर में प्रोडक्शन के लिए इंसेंटिव देने का एलान किया जा सकता है। इसमें स्वास्थ्य से जुड़ी एक बड़ी योजना को भी मंजूरी दी जा सकती है

नई दिल्ली। केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में बुधवार को आटो और ड्रोन सेक्टर के लिए पीएलआई योजना को मंजूदी दी गई है। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि सरकार भारत में विनिर्माण क्षमताओं को बढ़ाने के लिए ऑटो उद्योग, आटो कामपोनेंट उद्योग और ड्रोन इंडस्ट्री के लिए प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम लेकर आई है।

इससे पहले मंगलवार को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में राष्ट्रपति भवन में करीब पांच घंटे तक मंत्रिपरिषद की बैठक हुई। इस बैठक को चिंतन शिविर कहा गया। बैठक में सादगी ही जीवन का तरीका है पर जोर दिया गया। इसमें स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया और शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कार्य क्षमता बढ़ाने को लेकर प्रेजेंटेशन दिया। उन्होंने कहा कि शासन में और सुधार के लिए ऐसे चार और चिंतन शिविर आयोजित किए जाएंगे।