मध्य प्रदेश : पुलिस कस्टडी में शख्स की मौत से गुस्साए लोगों ने किया हमला, तीन पुलिसकर्मी घायल

 

रोबरी केस में आरोपित की पुलिस कस्टडी में मौत
एसडीएम एस सिंह ने बताया कि हमने रोबरी केस से संबंधित 12 लोगों को गिरफ्तार किया था जिसमें से एक की सोमवार रात को मौत हो गई थी। इस बात से मृतक के परिवारजन काफी गुस्से में हैं और वो उसकी मौत के लिए पुलिस को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।

खरगोन, एएनआइ। मध्य प्रदेश के खरगोन के बिस्टान में मंगलवार को करीब 100 स्थानीय लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया, जिसमें तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस ने रोबरी के केस में 12 लोगों को गिरफ्तार किया था जिसमें से एक की कल रात को मौत हो गई। इस बात से गुस्साए लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया।

एसडीएम एस सिंह ने बताया कि हमने रोबरी केस से संबंधित 12 लोगों को गिरफ्तार किया था, जिसमें से एक की सोमवार रात को मौत हो गई थी। इस बात से मृतक के परिवारजन काफी गुस्से में हैं और वो उसकी मौत के लिए पुलिस को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। इस बात से गुस्से में आए तकरीबन 100 लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया जिसमें तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं।

जानकारी के मुताबिक, खरगोन जिले के बिस्टान में आदिवासी युवक की मौत के बाद बवाल मच गया। ग्रामीणों ने बिस्टान थाने पर पहुंचकर जमकर तोड़फोड़ कर दी। इतना ही नहीं गुस्साए लोगों ने पथराव किया और वाहनों पर भी तोड़फोड़ की। खरगोन से पुलिस बल के पहुंचने के बाद स्थिति फिलहाल नियंत्रण में है। आज सुबह बड़ी संख्या में आदिवासी समाज के महिला-पुरुष ने जमकर उत्पात मचाकर बिस्टान थाने में पथराव कर दिया। थाने में मौजूद स्टाफ कर्मचारी जान बचाकर वहां से बाहर भाग गए। इस घटना में पुलिस जवान भी घायल हुए। इसके बाद पुलिस बल ने आंसू गैस के गोले छोड़े और भीड़ को वहां से भगाया।