मैसुरु दुष्कर्म पीड़िता ने सभी आरोपितों को पहचाना, आरोपी को पकड़ने के लिए तमिलनाडु में पुलिस की टीम

 

चामुंडी फुटहिल्स में 24 अगस्त को हुआ था यह अपराध

सूत्रों ने कहा कि सरकार और पुलिस उसकी स्थिति से अवगत है और बयान दर्ज करने की जल्दी में नहीं है। विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने सरकार की आलोचना की थी और पीड़िता का बयान दर्ज करने के लिए दबाव डाला था।

मैसुरु, आइएएनएस। कर्नाटक के मैसूरु में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार ने अपराध करने वालों की तस्वीरों की पहचान कर ली है। वहीं 20 सदस्यीय एक विशेष टीम तमिलनाडु के तिरुपुर में अपराध में शामिल सातवें आरोपित की तलाश में जुटी है। चामुंडी फुटहिल्स में 24 अगस्त को यह अपराध हुआ था। पीड़िता को आरोपितों की तस्वीरें भेजी गई थी और उसने उन सभी को पहचान लिया है। पुलिस सूत्रों ने कहा कि पीड़िता की हालत अभी भी गंभीर है और एक अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। पुलिस उसके स्वस्थ होने और बात करने की स्थिति में आने पर बयान दर्ज करने की योजना बना रही है।

सूत्रों ने कहा कि सरकार और पुलिस उसकी स्थिति से अवगत है और बयान दर्ज करने की जल्दी में नहीं है। विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने सरकार की आलोचना की थी और पीड़िता का बयान दर्ज करने के लिए दबाव डाला था। उन्होंने कहा था कि कानून में पीड़िता का बयान दर्ज किए जाने का प्रविधान है। तिरुपुर गई विशेष टीम बाधाओं का सामना कर रही है, क्योंकि स्विच आफ होने से आरोपित के फोन का पता नहीं चल पा रहा है।

पुलिस जानती थी कि आरोपित अपने रिश्तेदारों के संपर्क में है, लेकिन वह पुलिस को चकमा देने में कामयाब हो गया। तिरुपुर में टीम ने आरोपित के सभी दोस्तों और रिश्तेदारों का पता लगा लिया है। पुलिस अपराध स्थल की जांच कर रही है और आरोपियों के साथ घटनाओं का क्रम तैयार कर रही है। कोर्ट की सहमति से पुलिस तीन आरोपितों को अपने साथ ले गई है। तमिलनाडु पुलिस थानों से भी आरोपितों की आपराधिक पृष्ठभूमि का पता लगाया जा रहा है।

गौरतलब है कि मेडिकल की छात्रा अपने दोस्त के साथ चामुंडी पहाड़ियों की तरफ जा रही थी तभी आरोपियों ने उन्‍हें रास्ते में रोककर दोनों के साथ मारपीट की और इसके बाद छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म किया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक आरोपियों ने कथित तौर पर वारदात का एक वीडियो भी बनाया था और पीड़िता व उसके दोस्त से तीन लाख रुपये की मांग की थी और उन्हें धमकी दी थी कि पैसे नहीं देने पर वो वीडियो को सार्वजनिक कर देंगे। वारदात के बाद लड़की को एक अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसने घटना के बारे में जानकारी दी।