चोरी की हाफ सेंचुरी लगाने वाले तीन बदमाश क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़े, सभी दिल्ली के स्वरूप नगर इलाके के रहने वाले

 

क्राइम ब्रांच ने बाहरी दिल्ली इलाके के स्वरूप नगर से तीनों को किया गिरफ्तार।
चोरी की 50 से अधिक वारदात को अंजाम दे चुके गिरोह के तीन बदमाशों को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। हाल में आरोपितों ने आइपी एक्टेंशन इलाके के एक फ्लैट की खिड़की काट कर 55 हजार रुपये व अन्य सामान चोरी किया था।

नई दिल्ली,  संवाददाता। राजधानी के विभिन्न थाना क्षेत्रों में चोरी की 50 से अधिक वारदात को अंजाम दे चुके गिरोह के तीन बदमाशों को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। हाल में आरोपितों ने आइपी एक्टेंशन इलाके के एक फ्लैट की खिड़की काट कर 55 हजार रुपये व अन्य सामान चोरी किया था। आरोपितों की पहचान स्वरूप नगर निवासी केशव उर्फ अभिषेक उर्फ बिल्लू, नावेद व करण के रूप में हुई है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि 28 अगस्त की रात आइपी एक्टेंशन इलाके के एक फ्लैट की खिड़की काट कर चोरी का मामला मंडावली फजलपुर थाने में दर्ज किया गया था।

इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर दिनेश कुमार और अरुण सिंधु की टीम कर रही थी। जांच के क्रम में पुलिस टीम को पता चला कि सभी आरोपित स्वरूप नगर इलाके के रहने वाले हैं। पुलिस टीम ने तकनीकी जांच के आधार पर शनिवार की रात आरोपितों के घर पर छापेमारी कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इनके पास से चोरी किए गए मोबाइल फोन, आठ हजार रुपये व एक महंगी घड़ी बरामद की है।

उधर सोनिया विहार के दूसरे पुश्ते पर शनिवार को भगवान गणेश की मूर्ति विसर्जन के दौरान यमुना में बहे तीनों किशोरों का रविवार को भी पता नहीं चला सका। पुलिस, एनडीआरएफ और गोताखोरों की टीम दिनभर उनकी तलाश करती रही। इस दौरान तीनों किशोरों के स्वजन अपने बच्चों की आस में यमुना किनारे बैठे रहे। सोमवार सुबह फिर से बचाव कार्य चलाया जाएगा। अधिकारियों का कहना है कि पानी के तेज बहाव के कारण तीनों काफी आगे चले गए होंगे। शनिवार शाम को किशोरों के बहने की सूचना मिलने के बाद बोट क्लब इंचार्ज हरीश कुमार मौके पर पहुंचे थे। दो मोटर बोट से 11 गोताखोर लगातार किशोरों की तलाश में जुटे हैं।

घटनास्थल के साथ ही आइटीओ व कालिंदीकुंज क्षेत्र में भी तलाश की गई। यमुना में बहे तीनों किशोर करावल नगर के अंकुर विहार में रहते हैं। 15 वर्षीय विवेक के परिवार में पिता नरेंद्र, मां वीना, एक भाई अभिषेक व बहन अंजलि हैं। वह 11वीं कक्षा का छात्र है। वहीं 12 वर्षीय आर्यन उर्फ शिवम सातवीं कक्षा का छात्र है और इसके परिवार में पिता आमोद कुमार, मां सोनी, दो बहन खुशी और मुस्कान हैं। इनके पिता कढ़ाई का काम करते हैं। वहीं 16 वर्षीय विजय के परिवार में पिता मनोज, मां नीरज के अलावा भाई विवेक और बहन निशा हैं।

युवक ने छलांग लगाकर एक किशोर को बचाया

शनिवार शाम को विवेक, आर्यन, विजय व विजय राठौर कालोनी वालों के साथ मूर्ति विसर्जन करने सोनिया विहार के दूसरे पुश्ते पर आए थे। इस दौरान चारों किशोर गहरे पानी में चले गए। चारों को डूबता देखकर एक युवक ने कूदकर विजय राठौर को पानी से निकाल लिया, लेकिन बाकी तीनों किशोर बह गए। किशोरों के बहने का एक वीडियो भी इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है।