पाकिस्तानी युवती ने Facebook पर लुधियाना के युवक को फंसाया, WhatsApp से मंगवाई देश की खुफिया जानकारी

 

पुलिस ने गांव ऊंची दोदी के जसविंदर सिंह पर केस दर्ज किया है। सांकेतिक चित्र।

जसविंदर फैक्ट्री में काम करता है। फेसबुक पर उसकी पकिस्तानी युवती के साथ दोस्ती हो गई थी। दोनों फेसबुक के मैसेंजर पर एक-दूसरे पर बात करने लगे। बाद में दोनों ने अपना वाट्सएप नंबर शेयर कर लिया।

 संवाददाता, लुधियाना। Honey Trapः  पाकिस्तानी लड़की के हनी ट्रैप में फंसकर लुधियाना के एक युवक ने संवेदनशील जानकारियां पड़ोसी देश को भेजी हैं। आरोपित जसविंदर सिंह को पाकिस्तानी लड़की ने इंटरनेट मीडिया के जरिये पहले जाल में फंसाया और फिर उससे खुफिया जानकारियां लेनी शुरू कर दी। वह उसे वाट्सएप के माध्यम से देश की खुफिया जानकारियां देता था। अब थाना डिवीजन नंबर 6 पुलिस ने आपराधिक गतिविधियों में संलिप्तता, आफिशियल सीक्रेट एक्ट तथा अन्य गंभीर धाराओं के तहत केस दर्ज करके उसकी तलाश शुरू कर दी है। सूत्रों का कहना है कि पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है मगर अधिकारियों ने फिलहाल इस बात की पुष्टि नहीं की है।

पुलिस की सीआईए-3 टीम के इंचार्ज इंस्पेक्टर यशपाल शर्मा ने बताया कि आरोपित की पहचान गांव ऊंची दोदी निवासी 22 वर्षीय जसविंदर सिंह के रूप में हुई। पुलिस ने 56 एपीओ के विंग कमांडर बीके बिश्नोई की शिकायत पर उसके खिलाफ केस दर्ज किया। रविवार मेल के द्वारा पुलिस को दी शिकायत में विंग कमांडर बीके बिश्नोई ने बताया कि आरोपित जसविंदर अपने वाट्एएप नंबर से पाकिस्तान में रह रही किसी युवती के संपर्क में है। वह उसके वाट्सएप नंबर पर यहां की खुफिया जानकारी भेजता है। 

फेसबुक के जरिये हुई दोस्ती

अब तक की जांच में सामने आया है कि जसविंदर किसी फैक्ट्री में काम करता है। फेसबुक पर उसकी पकिस्तानी युवती के साथ दोस्ती हो गई थी। दोनों फेसबुक के मैसेंजर पर एक-दूसरे पर बात करने लगे। बाद में दोनों ने अपना वाट्सएप नंबर शेयर कर लिया। इसके बाद उनकी वाट्सएप पर चैटिंग होने लगी।

आईएसआई से जुड़ी हो सकती है लड़की

पुलिस को शक है कि उक्त युवती पाकिस्तान की खूफिया एजेंसी आईएसआई के लिए काम करती है। हालांंकि इसके बारे में अधिकारियों ने पुष्टि नहीं की है। मामले की गहराई से जांच पड़ताल की जा रही है। जिसमें अहम खुलासे होने की संभावना है।