बेटियों के लिए खुले NDA के द्वार, ऐसे बनाएं आर्म्‍ड फोर्सेज में करियर; सैलरी भी है आकर्षक

 

जानते हैं एनडीए के जरिए अधिकारी बनने की प्रक्रिया...

 सुप्रीम कोर्ट के हाल के एक फैसले के बाद आने वाले दिनों में लड़कियां भी आर्म्‍ड फोर्सज में एनडीए के लिए आवेदन कर सकेंगी। पहले इस परीक्षा में सिर्फ अविवाहित लड़के ही शामिल होते थे।

 नेशनल डिफेंस एकेडमी (राष्ट्रीय रक्षा अकादमी) ऐंड नेवल एकेडमी एग्‍जामिनेशन का आयोजन संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा किया जाता है। इस अखिल भारतीय प्रवेश परीक्षा के माध्यम से 12वीं पास युवाओं की भारतीय थल सेना, भारतीय वायु सेना और भारतीय नौसेना में लेफ्टिनेंट पदों के लिए सीधे चयन होता है। यह परीक्षा आमतौर पर साल में दो बार अप्रैल और सितंबर माह के दौरान होती है। लेकिन कोरोना महामारी के कारण इस बार आगामी एनडीए (2)-2021 परीक्षा 14 नवंबर, 2021 को आयोजित की जाएगी।

पेपर पैटर्न: एनडीए में कैंडिडेट के चयन के लिए दो चरणों की परीक्षा होती है। इसमें पहला चरण लिखित परीक्षा और दूसरा एसएसबी इंटरव्‍यू का है। यह पूरी परीक्षा 1800 अंकों की है, जिसमें 900 अंकों की लिखित परीक्षा और 900 अंकों इंटरव्‍यू होता है। लिखित परीक्षा में कुल दो पेपर होते हैं। पहला पेपर मैथ (300 अंक) और दूसरा जनरल एबिलिटी टेस्‍ट (600 अंक) का है। पहले पेपर में जहां सिर्फ मैथ्‍स से जुड़े प्रश्‍न पूछे जाते हैं, वहीं दूसरे पेपर में अंग्रेजी, जनरल नालेज, फिजिक्‍स, केमिस्‍ट्री, जनरल साइंस के अलावा, करेंट इवेंट्स से संबंधित प्रश्‍न भी पूछे जाते हैं। दोनों पेपर्स को हल करने के लिए ढाई-ढाई घंटे का समय मिलता है, जिनमें सभी बहुविकल्‍पीय टाइप के प्रश्‍न पूछे जाते हैं। पेपर्स में प्रश्‍नों की प्रकृति के संबंध में विस्‍तार से जानकारी के लिए आयोग की वेबसाइट पर उपलब्‍ध नोटिफिकेशन देखें। यही पर आपको इस परीक्षा के पिछले वर्षों के प्रश्नपत्र भी मिल जाएंगे। एनडीए में निगेटिव मार्किंग भी होती है यानी गलत उत्‍तर देने पर आपके अंक काट लिए जाएंगे।

jagran

रिक्तियों की संख्‍या: आगामी एनडीए-2 के लिए कुल रिक्तियां 400 हैं। इनमें एनडीए के लिए 370 पद हैं जिनमें 204 आर्मी विंग के लिए, 42 पद नेवी और 120 पद एयरफोर्स के लिए हैं। इन 370 पदों में 28 पद ग्राउंड ड्यूटी के लिए भी शामिल हैं। वहीं, नेवल एकेडमी (10+2 कैडेट एंट्री स्‍कीम) के अंतर्गत 30 पद हैं। वैसे, एनडीए के लिए हर बार यह रिक्तियां बदलती रहती हैं।

शैक्षिक योग्‍यताएं: एनडीए में सम्मिलित होने वाले कैंडिडेट के लिए योग्‍यताएं अलग-अलग हैं, जैसे नेशनल डिफेंस एकेडमी के आर्मी विंग में जाने के लिए न्‍यूनतम योग्‍यता किसी भी मान्‍यताप्राप्‍त बोर्ड से बारहवीं होना चाहिए। इसके लिए किसी भी स्‍ट्रीम के स्‍टूडेंट आवेदन कर सकते हैं। वहीं, एयरफोर्स और नेवल विंग में साइंस स्‍ट्रीम के स्‍टूडेंट ही आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए फिजिक्‍स, केमिस्‍ट्री और मैथ्‍स विषयों से बारहवीं होना चाहिए। आवेदन के समय बारहवीं बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले स्‍टूडेंट भी इसमें सम्मिलित होने के लिए पात्र होते हैं, लेकिन ऐसे कैंडिडेट्स को एसएसबी इंटरव्‍यू क्‍वालिफाई करने के बाद अंतिम चयन से पहले बारहवीं पास होने का मूल सर्टिफिकेट प्रस्‍तुत करना अनिवार्य होता है।

jagran

आवेदन प्रक्रिया: यूपीएससी द्वारा एनडीए के लिए आनलाइन आवेदन मांगे जाते हैं। इससे संबंधित नोटिफिकेशन आमतौर पर जनवरी और जून माह के दौरान आते हैं। कैंडिडेट को आयोग की वेबसाइट (upsconline.nic.in ) पर जाकर आनलाइन आवेदन करना होता है। यहीं पर आवेदन पत्र भरे जाने संबंधी विस्‍तृत दिशा-निर्देश भी दिया गया होता है। आनलाइन आवेदन भरने के लिए कैंडिडेट के पास एक फोटो आइडी (आधार कार्ड/ वोटर कार्ड/पैन कार्ड/ पासपोर्ट/ डीएल/स्‍कूल फोटो आइडी) होना चाहिए, तभी यहां आप अपना रजिस्‍ट्रेशन कर सकते हैं। इसके अलावा, अगर कैंडिडेट को रजिस्‍ट्रेशन करते समय कोई समस्‍या आ रही है या उसे कोई जानकारी चाहिए, तो इसके लिए भी यूपीएससी का फेसिलिटेशन सेंटर होता है, जहां आप फोन करके अपनी दुविधा दूर कर सकते हैं। इसके लिए सेंटर का नंबर नोटिफिकेशन में दिया होता है।

आयु सीमा: एनडीए में अविवाहित भारतीय कैंडिडेट ही आवेदन के लिए पात्र होते हैं। इस परीक्षा में आवेदन के समय कैंडिडेट की उम्र सीमा 15 से 18 वर्ष के बीच होनी चाहिए। एनडीए (2)-2021 के नोटिफिकेशन के अनुसार, 2 जनवरी, 2003 से 1 जनवरी, 2006 के बीच जन्‍मे कैंडिडेट्स से आगामी परीक्षा के लिए आवेदन मांगा गया है।

जानने योग्‍य बातें

  • एनडीए कैंपस: 1954 में पुणे के पास खड़गवासला में स्‍थापित यह कैंपस सात हजार एकड़ में फैला है। यह पर संयुक्‍त रूप से तीनों सेनाओं के लिए कैडेट्स को प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है
  • एनडीए में प्रशिक्षण की अवधि: तीन वर्ष (छह सेमेस्‍टर)
  • कुल सीटें: एनडीए के अंतर्गत कुल सीटें 370 हैं। इनमें 208 आर्मी के लिए, 120 एयरफोर्स के लिए तथा 42 नेवी के लिए हैं

आकर्षक वेतन एवं सुविधाएं: एनडीए में आर्मी यानी थल सेना के लिए चयनित कैंडिडेट की प्रशिक्षण के बाद पहली नियुक्ति लेफ्टिनेंट पद पर होती है। एकेडमी में प्रशिक्षण की अवधि के दौरान ही सभी कैडेटों को तकरीबन 56 हजार रुपये प्रतिमाह वेतन मिलता है। वैसे लेफ्टिनेंट पद के लिए चुने गए कैंडिडेट्स को लगभग 56,100/ से 1,77,500 रुपये वेतनमान दिया जाता है। इसके अलावा, तमाम भत्‍ते और सुख सुविधाएं मिलती हैं, जैसे कि निःशुल्क आवास, खाना, महंगाई भत्‍ता, मेडिकल सुविधाएं, कैंटीन सुविधाएं इत्‍यादि। अनुभव के साथ-साथ इसमें समय-समय पर पदोन्‍नति भी मिलती है और उसी अनुसार सैन्‍य सेवा वेतन भी मिलता है। यहां लेफ्टिनेंट पद पर चयनित होकर अपने सेवा काल के दौरान मेजर, मेजर जनरल तथा ब्रिगेडियर तक बन सकते हैं।

शारीरिक फिटनेस जरूरी: एनडीए में शामिल होने के लिए शारीरिक फिटनेस का होना भी बहुत जरूरी है। हर साल यह देखा जाता है कि तमाम क्‍वालिफाइड कैंडिडेट इस परीक्षा से सिर्फ इसलिए रिजेक्‍ट कर दिये जाते हैं, क्‍योंकि उनकी मेडिकल फिटनेस एनडीए की तय गाइडलाइन के मुताबिक नहीं होती है। दरअसल, लिखित परीक्षा और एसएसबी इंटरव्‍यू के बाद आखिरी चरण में सभी क्‍वालिफाइड कैंडिडेट्स की एक मेडिकल जांच होती है। अंतिम चयन से पूर्व यह बहुत महत्‍वपूर्ण चरण होता है।

इसलिए इस परीक्षा में आवेदन से पहले कैंडिडेट को खुद की मेडिकल जांच अवश्‍य करा लेनी चाहिए, इससे आपको फाइनल स्‍टेज पर पहुंचकर निराशा का सामना नहीं करना पड़ेगा। अगर जांच में किसी तरह की कोई कमी/बीमारी सामने आती भी है, तो कोशिश यही करें कि मिलिट्री हॉस्पिटल में मेडिकल एग्‍जामिनेशन से पहले अपनी उस बीमारी का उपचार करा लें। इसके अलावा, कैंडिडेट की एक तय शारीरिक ऊंचाई और वजन भी होना चाहिए। इस बारे में विस्‍तार से जानकारी के लिए नोटिफिकेशन देखें।