टीचर्स डे पर PM मोदी ने देश के शिक्षकों को दी बधाई, कोरोना काल में किए गए कार्यों को सराहा

 

कोरोना महामारी के बीच छात्रों की शिक्षा सुनिश्चित करने के लिए पीएम मोदी ने शिक्षकों की सराहना की
शिक्षक दिवस भारत के दूसरे राष्ट्रपति डा एस राधाकृष्णन की याद में मनाया जाता है। उनका जन्म 5 सितंबर 1888 को हुआ था। शिक्षा के क्षेत्र में उनके योगदान और सभी शिक्षकों के सम्मान में 1962 में शिक्षक दिवस मनाने की परंपरा शुरू हुई थी।

नई दिल्ली, एएनआइ। टीचर्स डेके अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर के शिक्षकों को बधाई दी है। इसके साथ ही उन्होंने कोरोना महामारी के दौरान छात्रों की शिक्षा सुनिश्चित करने के लिए उनकी सराहना भी की।

पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा, 'शिक्षक दिवस पर पूरे शिक्षण बिरादरी को बधाई, जिसने हमेशा युवा मन को पोषित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। यह प्रशंसनीय है कि कैसे शिक्षकों ने कोरोना महामारी के समय में छात्रों की शिक्षा यात्रा जारी रखने के लिए नवाचार को सुनिश्चित किया।

इसके साथ ही पीएम मोदी ने डा एस राधाकृष्णन को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि भी दी। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ' मैं डा एस राधाकृष्णन को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं और उनकी विशिष्ट विद्वता के साथ-साथ हमारे देश में योगदान को याद करता हूं।'

शिक्षक दिवस पूरे देश में एक दार्शनिक-लेखक और भारत के दूसरे राष्ट्रपति डा एस राधाकृष्णन की याद में मनाया जाता है। उनका जन्म 5 सितंबर, 1888 को हुआ था। शिक्षा के क्षेत्र में उनका योगदान अनुकरणीय है। 1962 में राधाकृष्णन और सभी शिक्षकों के सम्मान में शिक्षक दिवस मनाने की परंपरा शुरू हुई थी।

इससे पहले शनिवार को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने भी शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर देश भर के शिक्षकों को बधाई दी और एक मजबूत और समृद्ध राष्ट्र के निर्माण में उनके अमूल्य योगदान के लिए शिक्षण समुदाय का आभार व्यक्त किया।