राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद आगरा में 18 अक्टूबर को होगी जयंत चौधरी की पहली जनसभा

 

आगरा में जयंत चौधरी की जनसभा 18 अक्‍टूबर को होगी।
आगामी विधानसभा चुनाव काे देखते हुए रालोद भी सक्रिय हो गई है। पार्टी अध्यक्ष जयंत चौधरी पहले चरण में 17 चुनावी रैलियां करेंगे। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की जन्म स्थली नूरपुर से सात अक्टूबर को इसकी शुरुआत हो चुकी है। आगरा में रैली की तैयारियां शुरू हो गई हैं।

आगरा,  संवाददाता। राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) की कमान संभालने के बाद जयंत चौधरी आगरा में पहली बार 18 अक्टूबर को जनसभा को संबोधित करेंगे। हालांकि उनकी पहली जनसभा नौ अक्टूबर को आगरा के अकोला में न्याय अधिकार यात्रा के समापन पर होनी थी लेकिन अस्वस्थ्य होने के कारण वह इस जनसभा में नहीं आ सके थे। अब आगरा के किरावली में उनकी पहली जनसभा होने जा रही है। इसको सफल बनाने के लिए पार्टी नेता अभी से जुट गए हैं। भीड़ जुटाने के लिए गांव-गांव जनसंपर्क किया जा रहा है। साथ ही पार्टी पदाधिकारियों को विभिन्न जिम्मेदारियां सौंपी जा रही हैं।

आगामी विधानसभा चुनाव काे देखते हुए रालोद भी सक्रिय हो गई है। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन आगरी के अनुसार, पार्टी अध्यक्ष जयंत चौधरी पहले चरण में 17 चुनावी रैलियां करेंगे। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की जन्म स्थली नूरपुर से सात अक्टूबर को इसकी शुरुआत हो चुकी है। पहले चरण की रैलियों का समापन 28 अक्टूबर को बड़ौत में होगा। 18 अक्टूबर को आशीर्वाद पथ के नाम से किरावली में रैली होगी। रालोद मुखिया सर्वसमाज का आशीर्वाद लेने के लिए आएंगे। इससे पहले इस गढ़ में उनके पिता और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी चरण सिंह कई बार रैलियां और सभाएं कर चुके हैं। उनके निधन के बाद पार्टी की कमान संभाल रहे जयंत चौधरी के लिए अध्यक्ष के रूप में यह पहला मौका होगा। हालांकि इससे पहले पार्टी के नेता के रूप में वह कई बार किरावली क्षेत्र में सभाएं कर चुके हैं। रालोद के युवा के चेहरे के रूप में वह पार्टी में लंबे से सक्रिय रहे हैं। यहां के तमाम लोगों से उनका सीधा जुड़ाव है। इस रैली के बाद आगरा में उनके और भी कई कार्यक्रम होंगे।