28 घंटे हिरासत में प्रियंका गांधी, बोलीं- बगैर FIR मुझे हिरासत में रखा, आरोपियों की गिरफ्तारी कब?

 

प्रियंका गांधी वाड्रा को कल सीतापुर से लिया गया था हिरासत में
कांग्रेस का आरोप है कि प्रियंका को कल उस समय हिरासत में लिया गया जब वह लखीमपुर खीरी जा रही थीं। इस बीच कांग्रेस समर्थकों ने सीतापुर में पीएसी गेस्ट हाउस के बाहर विरोध प्रदर्शन जारी रखा जहां पर पार्टी नेता को हिरासत में लिया गया था।

नई दिल्ली, एएनआइ। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि उन्हें बगैर किसी आदेश और प्राथमिकी के 28 घंटे से हिरासत रखा गया है। राज्य सरकार ने विपक्षी नेताओं की मौजूदगी से स्थिति और तनावपूर्ण होने के डर से बड़े नेताओं को लखीमपुर खीरी जाने से रोक दिया था। लखीमपुर जाने के प्रयास में लखनऊ से निकलीं प्रियंका गांधी को सीतपुर में हिरासत में लिया गया था।

प्रियंका ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए कहा, 'नरेंद्र मोदी सर, आपकी सरकार ने मुझे बिना किसी आदेश और प्राथमिकी के पिछले 28 घंटे से हिरासत में रखा है। लेकिन किसानों को कुचलने वाले को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।'

कांग्रेस का आरोप है कि प्रियंका को कल उस समय गिरफ्तार किया गया जब वह लखीमपुर खीरी जा रही थीं। इस बीच, कांग्रेस समर्थकों ने सीतापुर में पीएसी गेस्ट हाउस के बाहर विरोध प्रदर्शन जारी रखा, जहां पर पार्टी नेता को हिरासत में लिया गया था।

उत्तर प्रदेश पुलिस ने कहा कि रविवार को लखीमपुर खीरी की घटना में आठ लोगों की मौत हो गई। लखीमपुर खीरी के जिलाधिकारी अरविंद कुमार चौरसिया ने संवाददाताओं से कहा, 'इस घटना में चार किसानों और चार अन्य की मौत हो गई है। मामले की जांच चल रही है। यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है, इसका राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए।'