30 नवंबर तक तोड़े जाएंगे 40-40 मंजिला दोनों टावर, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका


Supertech Emerald Case: तोड़े जाएंगे सुपरटेक एमरल्ड कोर्ट प्रोजेक्ट के दोनों टावर, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका
Publish Date:Mon, 04 Oct 2021 01:43 PM (IST)Author: Jp Yadav

Supertech Emerald Case सुपरटेक कंपनी की पुनर्विचार याचिका सुप्रीम कोर्ट से सोमवार को खारिज होने के साथ ही अब सुपरटेक के दोनों 40 मंजिला टावरों को गिराने का रास्ता साफ हो गया है। यह सुपरटेक के लिए बड़ा झटका है।

नई दिल्ली/नोएडा, जागरण डिजिटल डेस्क। रियल एस्‍टेट कंपनी सुपरटेक लिमिटेड को सुप्रीम कोर्ट से सोमवार को फिर तगड़ा झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को सुनवाई के दौरान नोएडा स्थित एमराल्ड कोर्ट प्रोजेक्ट में सुपरटेक कंपनी के दोनों 40 मंजिला टावर ढहाने के आदेश के खिलाफ दायर पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी।सुपरटेक कंपनी की पुनर्विचार याचिका खारिज होने के साथ ही अब सुपरटेक के दोनों 40 मंजिला टावरों को गिराने का रास्ता साफ हो गया है। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि 30 नवंबर तक दोनों टावरों को गिराने के बाद इस रिपोर्ट सौंपी जाएगी। 

सुपरटेक एमेराल्ड के तहत ये दोनों ही टॉवर 40-40 मंजिला हैं। कोर्ट ने कहा कि  सुपरटेक अपने ही पैसों से इनको 30 नवंबर तक तोड़ने के साथ ही खरीदारों की रकम ब्याज समेत लौटानी होगी।  बता दें कि 40-40 मंजिला इन सुपरटेक के टावरों में 1000-1000 फ्लैट हैं। सुप्रीम कोर्ट अपनी टिप्पणी में कह चुका है कि ये दोनों टावर नियमों की अनदेखी करके बनने दिए गए।


12 फीसद ब्वाज के साथ मिलेगी रकम

कोर्ट के आदेश के बाद खरीदारों को भी बड़ा लाभ मिलेगा। आदेश के अनुसार, जिन निवेशकों ने इन सुपरटेक ट्विन टावरों में फ्लैट लिए थे उन्हें 12 फीसदी ब्याज के साथ रकम लौटाई जाएगी।