नौकरी दिलाने का झांसा देकर युवती से सामूहिक दुष्कर्म, चार माह बाद पुलिस ने दो आरोपित दबोचे

 

26 साल की युवती को नौकरी दिलाने का झांसा देकर छह युवकों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म ।
छह युवकों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म करने के एक पुराने मामले में मध्य जिला के महिला अपराध शाखा ने करीब चार माह बाद दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपितों में एक ने युवती से शादी करने का झांसा देकर उसे कई बार हवस का शिकार बनाया था।

नई दिल्ली, संवाददाता। 26 साल की युवती को नौकरी दिलाने का झांसा देकर छह युवकों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म करने के एक पुराने मामले में मध्य जिला के महिला अपराध शाखा ने करीब चार माह बाद दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपितों में एक ने युवती से शादी करने का झांसा देकर उसे कई बार हवस का शिकार बनाया था। चार आरोपित अभी भी फरार है। सभी आरोपित एक क्षेत्रीय राजनीतिक पार्टी के कार्यकर्ता हैं।

मामले में पुलिस की भूमिका संदिग्ध रही, जिससे आरोपितों को गिरफ्तार करने में इतनी देरी हुई। घटना के करीब एक साल बाद बीते जुलाई में नबी करीम थाना पुलिस ने युवती की शिकायत पर यकीन न कर पहले तीन आरोपितों के खिलाफ ही सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा किया था। पुलिस ने ऐसा इसलिए किया था ताकि कम आरोपित दिखाने पर आला अधिकारियों का ध्यान इस तरफ न आ सके। बाद में युवती की धारा 164 के बयान के आधार पर मुकदमे में चार अन्य आरोपितों के नाम को शामिल कर लिया गया।

देर से मुकदमा दर्ज करने पर भी थाना पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार नहीं किया। युवती के स्वजन की गुहार पर आला अधिकारी ने विस्तृत जांच के लिए मामले को जिला अन्वेषण इकाई में ट्रांसफर कर दिया था। वहां भी मामला ठंडे बस्ते में पड़ा रहा। उसके बाद वहां से मामले को कमला मार्केट स्थित महिला अपराध शाखा के पास ट्रांसफर कर दिया गया। महिला अपराध शाखा ने अब इस मामले में चार माह बाद विजय व कुलदीप ¨सह को गिरफ्तार किया है। विजय, युवती का दोस्त था।

युवती मुखर्जी नगर इलाके में परिवार के साथ रहती है। विजय से युवती की दोस्ती चांदनी चौक में हुई थी। उसने नौकरी दिलाने के बहाने युवती को अपनी कार से बुराड़ी ले आया था। वहां उसने युवती के साथ दुष्कर्म किया। उसने युवती से शादी कर लेने का भी झांसा दिया। दुष्कर्म के दौरान विजय ने वीडियो बना ली और फोटो भी ले ली। उसके बाद विजय एक दिन युवती को बुराड़ी में रहने वाले सुमित के कार्यालय ले गया।

वहां सुमित ने उसके साथ उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में कुलदीप को वहां बुला लिया गया और उसने भी युवती के साथ दुष्कर्म किया। नौकरी नहीं दिलाने पर युवती ने जब विजय से पूछताछ की तब जल्द नौकरी दिलाने का वादा किया। बीते जुलाई में विजय, युवती को लेकर नबी करीब स्थित बाबा होटल आया था। वहां उससे विजय, सुमित व कुलदीप ने सामूहिक दुष्कर्म किया।